Wednesday 29th \2024f May 2024 05:47:12 AM
HomeLatest Newsसरकार के जनविरोधी लैंड म्यूटेशन बिल के खिलाफ सड़क से सदन तक...

सरकार के जनविरोधी लैंड म्यूटेशन बिल के खिलाफ सड़क से सदन तक होगा विरोध: भाजपा

भाजपा विधायक दल की बैठक में लैंड म्यूटेशन बिल, सहायक पुलिस कर्मी और नेता प्रतिपक्ष जैसे मुद्दों पर चर्चा 

उज्ज्वल दुनिया /रांची ।  सरकार के जनविरोधी निर्णयों के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी सड़क से सदन तक विरोध करेगी। यह निर्णय भारतीय जनता पार्टी के विधायक दल की बैठक में हुई। इसकी जानकारी राजमहल के विधायक अनंत कुमार ओझा ने दी। उन्होंने कहा कि सरकार जनविरोधी लैंड म्यूटेशन बिल लाने को आतुर है। जल जंगल और जमीन लूटने वाले अधिकारियों को खुली छूट देने का निर्णय सरकार ने लिया है। यूपीए की हेमंत सोरेन कि सरकार के निर्णय के खिलाफ सदन के अंदर और सदन के बाहर भी भारतीय जनता पार्टी विरोध करेगी, यह निर्णय विधायक दल की बैठक में हुई।

सहायक पुलिस कर्मियों पर सदन के अंदर और बाहर सरकार को घेरने की रणनीति 

साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य में अपराधी बेलगाम हो रहे है , उग्रवादी घटनाएं घट रही है,  अपराध में बेतहाशा वृद्धि हुई है, लॉ एंड ऑर्डर चरमरा गई है। सरकार के गिरते शासन व्यवस्था के खिलाफ पार्टी सोमवार को सदन में सरकार को घेरने का कार्य करेगी। राज्य के ज्वलंत मुद्दे पर सरकार ने मौन साध रखा है। कोरोना जैसी वैश्विक बीमारी में त्राहिमाम जनता को लेकर, नौजवानों को झूठा आश्वासन के खिलाफ, सहायक पुलिस कर्मियों को हटाए जाने को लेकर और बेरोजगारों की बड़ी फौज खडे करने को लेकर पार्टी के विधायक सरकार को घेरने का काम करेगी ।

 नेता प्रतिपक्ष के मुद्दे पर जनता की अदालत में जाएंगे

इस दौरान नेता प्रतिपक्ष की मान्यता के सवाल पर विधायक अनंत कुमार ओझा ने कहा की सरकार का रवैया यह साबित करता है कि गैर लोकतांत्रिक व्यवहार इस सरकार में चल रहा है। हमारे नेता बाबूलाल मरांडी ने कहा है कि सदन के अंदर नेता प्रतिपक्ष की मान्यता को लेकर राज्य की जनता की अदालत में जाएंगे। मालूम हो कि भारतीय जनता पार्टी के विधायक दल की बैठक पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी के आवास में हुई।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments