Thursday 23rd \2024f May 2024 08:47:47 AM
HomeLatest Newsभाजपा को हमें माटी की पार्टी बनाना है, जमीन पर काम करना...

भाजपा को हमें माटी की पार्टी बनाना है, जमीन पर काम करना होगा

उज्ज्वल दुनिया /रांची । हमारा दायित्व बनता है कि केंद्रीय नेतृत्व द्वारा जो कार्यक्रम सुपुर्द किए गए हैं, हम सभी को साथ मिलकर उन कार्यक्रमों को पूरा करना है। भारतीय जनता पार्टी को हमें माटी की पार्टी बनानी है। इसके लिए जनता के सवालों को लेकर मंडल स्तर पर आंदोलन को धारदार बनाने की जरूरत है। ये बातें भाजपा कार्यसमिति की बैठक को संबोधित करते हुए बाबूलाल मरांडी ने कही ।

पुलिस और गुंडो के गठजोड़ से डराना चाहती है सरकार 


बाबूलाल मरांडी ने कहा कि झारखंड सरकार बदले की भावना से काम कर रही है। भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को डराने-धमकाने का काम किया जा रहा है। अब तक 116 पार्टी के कार्यकर्ताओं और सरकार की लूट- खसोट की नीति का मुखर विरोध करने वाले जनप्रतिनिधियों को फंसाने का प्रयास किया गया है। सिर्फ फंसाने का प्रयास नहीं बल्कि पुलिस और गुंडों के गठजोड़ से इन्हें धमकी भी दिलवाई जा रही है। पूरे प्रदेश में सरकार की गलत नीतियों का विरोध करने पर झूठे मुकदमे में फंसने वाले लोगों की संख्या कार्यकर्ताओं सहित लगभग 160 है। हमें सरकार और पुलिस की इस बदले की भावना की कार्यवाई को लेकर पुरजोर विरोध करने की जरूरत है। पुलिस – प्रशासन को भी किसी के इशारे पर नहीं बल्कि निष्पक्ष होकर कार्य करने की जरूरत है। 

ट्रांसफर-पोस्टिंग उद्योग की बदौलत चर रही है सरकार 

बाबूलाल मरांडी ने कहा कि झारखंड में भ्रष्टाचार चरम पर है। इसके विरुद्ध हमें आंदोलन करनी होगी। नई सरकार में भ्रष्टाचार के जैसे-जैसे कारनामे सामने आ रहे हैं, वह आश्चर्य पैदा करती हैं। ट्रांसफर-पोस्टिंग एक उद्योग बन चुका है। पैसे लेकर अधिकारियों के तबादले होंगे तो भ्रष्टाचार कैसे रुकेगा ? बालू-कोयले की लूट और चौतरफ़ा वसूली हो रही है। ये सारे लूट सरकारी संरक्षण में  किए जा रहे हैं। लूट के पैसे अधिकारी से लेकर ऊपर तक बांटे जा रहे हैं। खान-खनिज को झारखंड सरकार अपने चहेते को देकर राज्य को लूटने की मंशा पाले हुए है, भाजपा इसे पूरा नहीं होने देगी। जो भी होगा, नियम-सम्मत होगा। 

अपराधियों से सत्ता के शीर्ष तक पैसे पहुंचते हैं

उन्होंने कहा कि झारखंड में लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति बद-से-बदतर है। अपराधी और उग्रवादियों का गठजोड़ खतरनाक संकेत है। राज्य किस ओर जा रहा है, समझने की जरूरत है। आम लोगों के अलावा जनप्रतिनिधियों को, यहां तक कि  मुख्यमंत्री जी को भी धमकी मिलना और अब तक इसका खुलासा नहीं होना, साबित करता है कि राज्य में अपराधी मजबूत हैं। या जानबूझकर अपराध को बढ़ावा दिया जा रहा है, समझ से परे है। अपराधियों से सत्ता के शीर्ष तक पैसे पहुंचते हैं। 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments