भाजपा के सत्ता से जाते ही थम गया झारखंड के विकास का पहिया

हम कुर्सी से भले उतर गए हों , लेकिन लोगों के दिलों से नहीं उतरे हैं 

उज्ज्वल दुनिया /रांची ।  भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने कहा है कि झारखंड की हेमंत सरकार भ्रष्टाचार युक्त है और विकास मुक्त सरकार है। प्रदेश में लॉ एंड ऑर्डर के चरमराने से विकास की गति रुक गई है। उन्होंने कहा कि भाजपा के नेता राजनीति में सत्ता या कुर्सी पर काबिज होने नहीं आए हैं, बल्कि हम भारत की तकदीर और तस्वीर बदलने आए हैं। उन्होंने झारखंड के नेताओं से कहा कि गोलबंदी करके सत्ता पर काबिज होना मैथमैटिक्स की बात है लेकिन हम अभी भी प्रदेश की जनता के दिलों से नहीं उतरे हैं। जेपी नड्डा सोमवार को झारखंड भाजपा की नवनिर्वाचित कार्यसमिति की बैठक को दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित कर रहे थे।

भ्रष्टाचार युक्त और विकास मुक्त है हेमंत सरकार- नड्डा 

भाजपा के केंद्रीय अध्यक्ष ने कहा कि झारखंड में हमारी सरकार नहीं है लेकिन पूर्व की सरकार ने जनता की सेवा की अच्छे काम किए। हम जनता के दिलों से नहीं उतरे हैं। उन्होंने कहा कि जब जिस प्रदेश में लॉ एंड ऑर्डर गड़बड़ा जाता है तब विकास तब रुक जाता है। पूर्व की भाजपा सरकार में नक्सलवाद समाप्त हो गया था। आज फिर से नक्सलवाद सिर उठा रहा है। ये तुष्टीकरण की निशानी है। हमने आदिवासियों को मुख्यधारा में शामिल किया था। आज सारे विकास के रास्ते अवरुद्ध हो गए हैं।उन्होंने कहा कि झारखंड की हेमंत सरकार भ्रष्टाचार युक्त है और विकास मुक्त सरकार है। उन्होंने यहां के नेताओं और कार्यकर्ताओं से कहा कि राजनेता दिशा और दृष्टि लेकर काम करता है। कोई आपसे पूछे कि आत्मनिर्भर भारत क्या है, गरीब कल्याण योजना क्या है, आयुष्मान भारत क्या है, उज्जवला योजना क्या है, सौभाग्य योजना है, स्वच्छता अभियान क्या है, राष्ट्रीय शिक्षा नीति क्या है, इन सभी का जवाब आपको बताना चाहिए।

हम चुनाव हारे हैं, मैदान नहीं – दीपक प्रकाश 

इससे पहले वर्चुअल बैठक को संबोधित करते हुए झारखंड भाजपा के अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने कहा कि हम पिछले कई वर्षों से वैचारिक संघर्ष कर रहे थे। नई शिक्षा नीति के माध्यम से पीएम ने देश में अलख जगाने का काम किया है। विधानसभा चुनाव में भाजपा को 50 लाख वोट मिले। दूसरी तरफ आरजेडी, झामुमो और कांग्रेस को 52 लाख वोट मिले। दो लाख का अंतर था। भाजपा में बाबूलाल के आने से उनके छह लाख लोगों का समर्थन भाजपा में जुट गया है। अब भाजपा के पास 56 लाख का जनसमर्थन है। हम चुनाव हारे हैं, मैदान नहीं हारे हैं। आने वाला समय हमारा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: