Wednesday, February 28, 2024
HomeBreaking Newsप्रेमिका से चोरी

प्रेमिका से चोरी

उज्ज्वल दुनिया/धनबाद । झारखंड में पश्चिमी टुंडी के घोर नक्सल प्रभावित जीतपुर गांव में प्रेमिका के घर संदेहास्पद स्थिति में पकड़े गए प्रेमी को गांववालों ने पीट-पीट कर मार डाला। जीतपुर के पारटांड़ टोला में रविवार की रात 12 बजे युवक को एक घर से पकड़ा गया था। मृतक राजेंद्र किस्कू (18 वर्ष) गिरिडीह जिले के सुदूर नक्सल प्रभावित क्षेत्र खूंखरा थाना क्षेत्र के हरलाडीह स्थित मदनाडीह गांव का निवासी था। उसे ग्रामीणों ने पारटांड़ टोला में मिसिर हांसदा के घर से पकड़ा था। 

युवक की हत्या के बाद दो गांव के बीच तनाव 

राजेंद्र की हत्या के बाद सोमवार की सुबह मदनाडीह और पारटांड़ टोला के ग्रामीणों के बीच ठन गई। दोनों गांवों के बीच संघर्ष टालने के लिए पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी।
बताया जाता है की मनियाडीह थाना क्षेत्र से लगभग आठ किलोमीटर दूर जीतपुर गांव के पारटांड़ टोला में रात करीब 12 बजे के आसपास राजेंद्र किस्कू मिसिर हांसदा के घर घुसा था। उसे घर के अंदर किसी बच्चे ने देख लिया। बच्चे के शोर मचाने के बाद वहां भीड़ लग गई और लोगों ने राजेंद्र को घसीट कर घर से निकाला और उस पर हमला बोल दिया। सुबह पुलिस को मामले की जानकारी दी गई।

पुलिस पांच लोगों को पूछताछ के लिए थाने लेकर आई

इसी बीच हरलाडीह मदानाडीह गांव से राजेंद्र किस्कू के परिजन व अन्य ग्रामीण पारटांड़ पहुंचे। शव को पोस्टमार्टम में ले जाने का विरोध करते हुए ग्रामीणों ने हंगामा शुरू कर दिया। वे युवक की हत्या में शामिल आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे। इधर पारटांड़ के ग्रामीणों का कहना था कि चोर समझ कर युवक पर भीड़ ने हमला किया था। सूचना पाकर दलबल के साथ पहुंचे थाना प्रभारी संतोष कुमार और इंस्पेक्टर डीके वर्मा ने दो महिला सहित पांच लोगों को पूछताछ के लिए थाना लाया।

गांव के पंचायत में सुनवाई से पूर्व युवक ने तोड़ा दम

राजेंद्र किस्कू को पकड़ने के बाद रात में ही ग्रामीणों का जुटान हुआ था। ग्राम प्रधान की मौजूदगी में सोमवार को युवक के परिजन को बुला कर मामले की सुनवाई करने की बात कही गई थी। रात में उसे बांध कर एक कमरे में रख दिया गया था। सुबह जब राजेंद्र के घरवाले अपने गांव के लोगों के साथ पहुंचे तो उसकी मौत हो चुकी थी। बताया जा रहा है कि रात में ग्रामीणों ने युवक की बेरहमी से पिटाई कर दी थी। पिटाई का दर्द वह नहीं झेल सका और उसने दम तोड़ दिया। पोस्टमार्टम में ही उसके साथ की गई बर्बरता से पर्दा उठेगा। पुलिस पता लगा रही है कि राजेंद्र किससे मिलने पहुंचा था। पुलिस प्रेम प्रसंग से जोड़ कर मामले की तफ्तीश में जुट गई है।

युवक के गांव वालों ने कमरे को घेरा

हरलाडीह मदनाडीह गांव के लोगों को जैसे ही जानकारी मिली कि राजेंद्र की मौत हो चुकी है तो उनका गुस्सा फूट पड़ा। जहां राजेंद्र का शव रखा था, उस कमरे को गांववालों ने घेर लिया। मौके पर पहुंची पुलिस की कार्रवाई का भी गांव वालों ने डट कर विरोध किया। राजेंद्र के परिजन और गांववालों ने मौके पर पारटांड़ के तीन लोगों को पकड़ा और उन्हें भर दम पीट डाला। मुखिया सनोदी देवी ने हस्तक्षेप कर मामले को शांत करने का प्रयास किया। पुलिस युवक की हत्या में लगन हांसदा, सूरजदेव मरांडी, रामेश्वर हांसदा को हिरासत में लेकर मनियाडीह थाना में पूछताछ कर रही है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments