Thursday 23rd \2024f May 2024 09:43:37 AM
HomeLatest Newsझारखंड को लूटने नहीं देंगे : रघुवर दास

झारखंड को लूटने नहीं देंगे : रघुवर दास


सजाने और संवारने की जिम्मेवारी भाजपा की

उज्ज्वल दुनिया /रांची । राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाए जाने पर रघुवर दास ने प्रदेश कार्यालय में हुए सम्मान समारोह में कहा कि लोकलुभावन वादे, झूठे वादे, व बदले की भावनाओं से पूर्वर्ती सरकार की योजनाओं को बंद करने वाली सत्तारूढ़ दल से जनता त्रस्त है। 9 महीने में दहेज हत्या, डायन हत्या, मुख्यमंत्री क्षेत्र समेत राज्य में हजार से ज्यादा दुष्कर्म, बढ़ते आपराधिक घटनाएं, बढ़ता नक्सलवाद, गिरता ला एंड आर्डर और भर्ष्टाचार ने चिंता बढ़ा दी है। इस सरकार में महिलाओं का सम्मान नहीं रहा। इस सरकार में  राज्य की जनता खुद को ठगा महसूस कर रही है। ब्यूरोक्रेसी हावी है, पदाधिकारी अधिकारी और सत्ता में शामिल दल और नेता मनमानी कर रहे हैं। ट्रांसफर पोस्टिंग का खेल जारी है। इनकी मनमानी नहीं चलने देंगे। झारखंड को लूटने नहीं देंगे। कोरोना काल के बाद पार्टी जवाब देगी। जनता फिर से गला लगाने को तैयार है। इस उपचुनाव में इसका असर देखने को मिलेगा। 

महात्मा गांधी के सपने को पूरा कर रहे हैं मोदी

उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी कहा करते थें की भारत को आत्मनिर्भर बनाना है तो गांव, किसान को आत्मनिर्भर बनाना होगा। इस सपने को पूरा करने में माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी करने में जुटे हुए हैं। जेबकतरा, बिचौलियों से मुक्ति के लिए कानून लाया गया है किंतु 50 साल तक देश को लूटने वाले व बिचौलियों की दलाल कांग्रेस के आंदोलन में एक भी किसान नहीं है। मोदी जी के शासन में बिचौलियों का नहीं चलेगा। किसानों को उनके सम्मान में यह कानून मिल का पत्थर साबित होगा। किसान आत्मनिर्भर बनेगा तभी देश आत्मनिर्भर होगा। मोदी जी ने एमएसपी भी बढ़ाने का कार्य किया है जबकि इसके नाम पर गंदी राजनीति की जा रही है। 

गुदड़ी के लाल हैं रघुवर: दीपक प्रकाश

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सह सांसद दीपक प्रकाश ने झारखंड राज्य से राष्ट्रीय कमेटी में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के रूप में रघुवर दास, अन्नपूर्णा देवी और अजज के राष्ट्रीय अध्यक्ष समीर उरांव को बनाए जाने पर हर्ष व्यक्त करते हुए केंद्रीय नेतृत्व का आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि रघुवर दास जमशेदपुर समेत राज्य की समस्या पर बढ़ चढ़ कर काम किया है। समाज के प्रति संवेदनशीलता रहा, समाज के लिए संघर्षरत रहे हैं। गुदड़ी के लाल हैं। 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments