Monday 20th \2024f May 2024 02:30:29 PM
HomeBreaking Newsझामुमो ने राजद को उसकी हैसियत से ज्यादा दिया सम्मान, लेकिन...

झामुमो ने राजद को उसकी हैसियत से ज्यादा दिया सम्मान, लेकिन राजद ने मक्कारी की

उज्ज्वल दुनिया/रांची । बिहार विधानसभा में महागठबंधन के तहत सीटें नहीं दिए जाने से नाराज़ झारखंड मुक्ति मोर्चा ने रांची में प्रेस कान्फ्रेंस कर राजद और कांग्रेस को जमकर खरी-खोटी सुनाई। सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि राजद में आज जो नए नेता बने हैं, वो अपने दिन भूल जाते हैं । झारखंड में राजद के घर में सालों से अंधेरा था । लोकसभा चुनाव में भी हमने उनके लिए सीट छोड़ी । विधानसभा में भी सात सीटें दी । तब एक सीट पर राजद की जीत हुई. हमने उनके अंधेरे घर में दीया जला दिया । सम्मान के साथ एक विधायक को मंत्री बना दिया । ये हेमंत और गुरुजी (शिबू सोरेन) का त्याग है ।

झारखंड में दीया बारने के लिए एक मंत्री रखा है लेकिन अब उसपर भी विचार करेंगे 

सुप्रियो भट्ट्चार्य ने कहा कि हम लालूजी का आदर करते हैं. सम्मान करते हैं । आगे भी करते रहेंगे । अगर लालू सामाजिक न्याय की बात करते हैं, तो कहां गई उनकी यह बात । जवाब लालू को ही देना होगा ।  आगे झारखंड में राजद के साथ क्या संबंध रहेंगे, इस सवाल पर पार्टी महासचिव ने कहा कि यहां पर हम मूल्यों के साथ हैं. दीया बारने के लिए उनके प्रतिनिधि को सरकार में रखा है. लेकिन वक्त आने पर विचार भी करेंगे । 

हम अंतिम समय तक इंतजार करते रहे

जेएमएम महासचिव ने कहा कि पार्टी ने इंतजार किया कि महागठबंधन के प्रमुख घटक दल राजद के साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगे । हमारी सांगठनिक ताकत वहां हैं, इसका भान राजद को भी है. बिहार की राजनीति में जेएमएम का सीधा हस्तक्षेप रहा है. लालू को जेएमएम ने बिहार में मुख्यमंत्री बनाने में साथ दिया. राबड़ी देवी को भी गद्दी में बैठाने पर साथ दिया. 2015 के चुनाव में समर्थन दिया महागठबंधन को. शायद राजद वाले वे दिन भूल गए ।

पुराने दिनों को भूल रहा राजद

उन्होंने कहा कि हम चाहते थे कि बीजेपी को मिलकर हराया जाए. चुनाव में रोका जाए. लेकिन राजनीति में परिस्थितियां बदल जाती है. मौजूदा राजद का नेतृत्व पुराने दिनों को याद नहीं करना चाहता. या फिर हमारे संघर्ष की पहचान नहीं करना चाहता. राजद याद रखे, जेएमएम सम्मान के साथ कभी समझौता नहीं करता. इस बात को बोलने में कतई हिचक नहीं कि राजद ने राजनीतिक मक्कारी की है ।

बोलने को मजबूर हुए

सुप्रियो भट्टाचार्य न कहा, ”हम बोलने को मजबूर हैं. दो दिन पहले महागठबंधन का प्रेस कांफ्रेस हो रहा था. तेजस्वी यादव ने कहा था कि 144 सीटों पर लड़ेंगे. लेकिन जेएमएम को अपने साथ रखेंगे. वह विजुअल हमारे पास है. लेकिन फिर उन्होंने जेएमएम के लिए सीटों की घोषणा नहीं की.144 सीटें मुबारक हो, पर याद रखें, नतीजे आने के बाद फिर हमारी जरूरत पड़ेगी ।

राजद के खिलाफ आंखे तरेरने के साथ ही पार्टी महासचिव ने झाझा, चकाई, कटोरिया से लड़ेंगे. धमदाहा, मनिहारी, पीरपैंती और नाथनगर से चुनाव ल़ड़ने का एलान किया. यह भी कहा कि कुछ और सीटों पर लड़ने के तैयारी है. बिहार में पार्टी के नेताओं, कार्यकर्ताओं से बातचीत जारी है. 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments