Thursday 23rd \2024f May 2024 08:19:48 AM
HomeNationalगुजरात : देश का सबसे लोकप्रिय पर्यटक स्थल बना 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी'

गुजरात : देश का सबसे लोकप्रिय पर्यटक स्थल बना ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’

पुरातत्व सर्वेक्षण के अनुसार, ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ भारत में ताजमहल सहित अन्य सभी स्मारकों से बहुत आगे 

न्यूयॉर्क की स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी से 50 फीसद अधिक हुआ आकर्षक, कोरोना अवधि के दौरान 7 महीने तक बंद रहा -खुलने के बाद 17 अक्टूबर से 27 अक्टूबर तक 10 हजार पर्यटक आए

केवड़िया/अहमदाबाद । गुजरात में सरदार सरोवर बांध के पास दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ की लोकप्रियता विश्व के अन्य पर्यटन स्थलों की तुलना में कई गुना अधिक बढ़ गयी है। अमेरिका के न्यूयॉर्क में विश्व प्रसिद्ध ‘स्टैचू ऑफ लिबर्टी’ की तुलना में अधिक पर्यटक ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ में आ रहे हैं। भारत सरकार के आंकड़ों के मुताबिक ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ में प्रतिदिन आने वाले 10,000 पर्यटकों की तुलना में मार्च 2020 (प्रति दिन कोरोना अवधि) से पहले ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ में आने वाले पर्यटकों की संख्या 15,036 हो गई।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज दुनिया की सबसे बड़ी प्रतिमा ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ आज सरदार वल्लभभाई पटेल की 145वीं जयंती के अवसर पर उन्हें अपनी श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर राष्ट्रीय एकता दिवस को चिह्नित करने के लिए एकता परेड का आयोजन भी किया गया था।
गत 31 अक्टूबर, 2018 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अनावरण की गई सरदार पटेल की प्रतिमा को देखने के लिए आए एक नवम्बर, 2018 से 17 मार्च, 2020 तक, देश और विदेश के 43 लाख पर्यटक लिए आए, जिससे कुल राजस्व लगभग 120 करोड़ रुपये था। हालांकि, कोरोना महामारी के कारण, 17 मार्च से 16 अक्टूबर, 2020 तक 7 महीने तक बंद रहने के बाद, यह 17 अक्टूबर से 27 अक्टूबर तक फिर से शुरू हुआ, जब लगभग 10,000 पर्यटक आए।
नर्मदा जिले के केवडिया कॉलोनी में ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ पर्यटकों की बढ़ती संख्या के कारण एक खास विषय बन गया है। प्रधानमंत्री मोदी द्वारा ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ के आसपास कई अन्य परियोजनाओं को शुरू करने की घोषणा के बाद से पर्यटकों की आमद लगातार बढ़ रही है। 31 अक्टूबर, 2018 को प्रतिमा के अनावरण के बाद से एक वर्ष में 2.4 मिलियन से अधिक लोगों ने साइट का दौरा किया है। उस समय, प्रतिमा की वार्षिक आय 63.69 करोड़ थी। यह राजस्व देश के शीर्ष 5 स्मारकों की तुलना में बहुत अधिक है। इस प्रकार, 2019 में’स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ देश में सबसे अधिक कमाई वाला स्मारक बन गया।
पिछली दिवाली पर 2,91,640 पर्यटक आए जो पिछले वर्ष की तुलना में दोगुना है। 2019 में दिवाली की छुट्टियों के दौरान प्रति दिन पर्यटकों की औसत संख्या 22,434 थी जबकि 2018 की दिवाली की छुट्टियों के दौरान प्रति दिन औसत 14,918 पर्यटक थे। एक नवम्बर 2018 से 31 अक्टूबर 2019 तक कुल 27,17,468 पर्यटक आए। ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ के आसपास आए पर्यटक आकर्षण को जोड़कर सालाना पर्यटकों की संख्या में 50.4 फीसद की वृद्धि हुई है। देश में पहली बार केवडिया में नाइट टूरिज्म – रात में मुख्य सड़क और सभी परियोजनाएं रंगीन रंगीन रोशनी से जगमगाती हैं।
भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) 2017-18 के अनुसार भारत में शीर्ष पांच स्मारकों का उच्चतम मूल्य में ताजमहल की वार्षिक आय 56.83 करोड़ रुपये थी। इस बीच 64.58 लाख लोगों ने ताजमहल का दौरा किया। ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ को 24.45 लाख लोगों ने एक वर्ष पूरा होने पर यानी 31 अक्टूबर 2018 से 31 अक्टूबर 2019 तक दौरा किया था और इसकी वार्षिक आय  63.69 करोड़ थी। अहमदाबाद और केवडिया के बीच सी-प्लेन सेवा आज से शुरू होने जा रही है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments