कटकमसांडी के डोड़वा में माओवादियों की धमक से पुलिस अलर्ट

जोनल कमांडर कारू यादव के दस्ते ने माओवादी आनंद के नाम फेंका पर्चा, ग्रामीणों में दहशत

टोह के लिए जंगलों की खाक छान रही पुलिस

अजय निराला /प्रमोद उपाध्याय/उज्ज्वल दुनिया/हजारीबाग। कटकमसांडी के डोड़वा में माओवादियों की धमक से पुलिस पूरी तरह अलर्ट मोड में आ गई है। बताया जाता है कि कटकमसांडी थाना क्षेत्र के अति उग्रवाद प्रभावित डोड़वा में गत रात्रि  माओवादियों ने घरों के दीवारों पर परचा चस्पा कर लोगों को अपनी मौजूदगी का एहसास कराया है। परचे में डोड़ंवा के टिकेश्वर यादव, रघु यादव, सफाड़ी यादव, विजय यादव व तुलेश्वर यादव को पूर्व से विवादित जमीन पर कोई भी रचनात्मक कार्य करने से मनाही की गई। परचे में लिखा गया है कि वर्ष 2004 में 16 एकड़ विवादित जमीन को भाकपा माओवादियों ने जब्त किया था। मगर एक पक्ष द्वारा जब्त विवादित जमीन के साढ़े नौ एकड़ जमीन को कब्जा कर पुन: 2018 से उक्त जमीन जोत कोड़ व घर बनाया जा रहा है, जो भाकपा माओवादियों के फरमान का उल्लंघन है। परचे मे 30 सितम्बर तक सामाजिक तौर पर फैसला कर विवाद को सुलझाने का निर्देश दिया गया है।

यह भी लिखा है कि निर्धारित तिथि के बाद संगठन अपने स्तर से कार्रवाई करेगी। परचे मे नीचे क्रांतिकारी अभिवादन के साथ उत्तरी छोटानागपुर जोनल कमिटी, सचिव कामरेड आनंद जी लिखा है। बता दें कि डोड़वा गांव मे भाकपा माओवादी जोनल कारू यादव का पैतृक घर व जमीन है, जिसपर उसके चचेरे भाइयों का कब्जा है। पूर्व विवादित जमीन को लेकर कई बार ग्रामीण स्तर पर पंचायत भी हुई। मगर किरू यादव के गोत्र हमेशा उक्त जमीन पर जबरन हावी रहे। वर्ष 2004 में विवाद को सलटाने का जिम्मा भाकपा माओवादियों को मिला। भाकपा माओवादियों ने करीब 16 एकड़ जमीन को अपने कब्जे मे ले लिया था। मगर दूसरे पक्ष द्वारा विवादित जमीन के करीब नौ एकड़ जमीन पर जोत कोड़ करने व मकान बनाने का काम जारी है।

इन चचेरे भाइयों से जोनल कमांडर कारू यादव का है जमीन विवाद

माओवादी जोनल कमांडर कारू यादव का अपने चचेरे भाइयों  टिकेश्वर यादव, रघु यादव, सफारी यादव, विजय यादव, तुलेश्वर यादव आदि से जमीन का विवाद है। तुलेश्वर यादव के घर के बाहर पर्चा फेंका मिला। पुलिस ने पर्चा को जब्त कर लिया है और माओवादियों की टोह में जंगलों की खाक छान रही है। कई ग्रामीण इसे फेक पर्चा बता रहे हैं।

क्या कहते हैं एसपी कार्तिक एस

इस संबंध में एसपी कार्तिक एस से पूछे जाने के बाद उन्होंने कहा कि कारु यादव माओवादी का जोनल कमांडर है। उसका गांव में व्यक्तिगत विवाद था। पर्चा फेंकने की सूचना मिली है। अभी जांच की जा रही है। जांच के बाद ही कुछ पता चल पाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: