Saturday 22nd \2024f June 2024 08:24:07 AM
HomeBreaking Newsअक्‍टूबर में आएगी कोरोना वैक्‍सीन, राज्‍यों से वितरण करने की तैयारी के...

अक्‍टूबर में आएगी कोरोना वैक्‍सीन, राज्‍यों से वितरण करने की तैयारी के दिए गए निर्देश

उज्ज्वल दुनिया/नई दिल्‍ली: भारत में आज कोरोना के रिकॉर्ड केस सामने आए हैं। हालांकि अभी दुनिया के कई देश कोरोना वैक्‍सीन बनाने में लगे हैं, लेकिन लगता है कि इसमें बाजी अमेरिका मार लेगा। यूएस सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) ने राज्य के सार्वजनिक स्वास्थ्य अधिकारियों से कहा है कि अक्टूबर के अंत तक उच्च-जोखिम वाले लोगों को संभावित कोरोना वायरस वैक्सीन वितरित करने के लिए तैयार करें।

वैक्सीन का इस समय पर आने का राजनीतिक महत्व भी है, क्योंकि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प नवंबर में फिर से चुनाव मैदान में होंगे। उन्‍होंने कोविड-19 को रोकने के लिए एक वैक्सीन विकसित करने का वादा करते हुए अरबों डॉलर खर्च किए थे, जिसके बाद भी अमेरिका में कोरोना ने 180,000 से अधिक लोगों को मार दिया है।

सीडीसी के प्रवक्ता ने बताया, “प्रारंभिक नियोजन के उद्देश्य से सीडीसी ने कुछ नियोजन मान्यताओं के साथ राज्यों को वैक्सीन वितरण के लिए राज्य की विशिष्ट योजनाओं पर काम किया, जिनमें संभवतः अक्टूबर और नवंबर में टीके सीमित मात्रा में शामिल थे।” न्यूयॉर्क टाइम्स ने पहले बताया था कि सीडीसी ने सभी 50 राज्यों और पांच बड़े शहरों में योजना की जानकारी के साथ अधिकारियों से संपर्क किया था।

देश के शीर्ष संक्रामक रोग विशेषज्ञ एंथोनी फौसी ने कहा कि कोविड-19 वैक्सीन को लेकर जो परीक्षण चल रहे हैं, उनके आधार पर नवंबर या दिसंबर तक पता लग जाएगा कि अभी जिन टीकों पर परीक्षण चल रहा है, उनमें से कौन सबसे ज्‍यादा सुरक्षित और प्रभावी है ।

न्यूयॉर्क टाइम्स द्वारा ऑनलाइन डाले गए दस्तावेजों से पता चलता है कि सीडीसी कोविड-19 के लिए एक या दो टीकों की तैयारी कर रहा है जो अक्टूबर के अंत तक सीमित मात्रा में उपलब्ध होंगे। दस्तावेजों में कहा गया है कि टीके स्वास्थ्य सेवाओं, राष्ट्रीय सुरक्षा कर्मियों और नर्सिंग होम के निवासियों और कर्मचारियों सहित उच्च जोखिम वाले लोगों को पहले मुफ्त में उपलब्ध कराए जाएंगे।

19 देशों में पिछले तीन महीनों में किए गए एक सर्वेक्षण के प्रारंभिक परिणामों से पता चला है कि केवल 70% ब्रिटिश और अमेरिकी कोविड-19 वैक्सीन लेंगे। ड्रग डेवलपर्स सहित मॉडर्न इंक, एस्ट्राजेनेका पीएलसी और फाइजर इंक कोरोना बीमारी के लिए एक सुरक्षित और प्रभावी टीका विकसित करने की दौड़ में हैं।

सीडीसी दस्तावेजों में दो टीकों के बारे में लिखा गया है, जिन्हें माइनस 70 और माइनस 20 डिग्री सेल्सियस के तापमान पर रखा जाना चाहिए। 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments