Wednesday, February 28, 2024
HomeBreaking Newsबोकारोः पूर्व भाजपा विधायक योगेश्वर महतो ने बोकारो विधायक विरंची नारायण पर...

बोकारोः पूर्व भाजपा विधायक योगेश्वर महतो ने बोकारो विधायक विरंची नारायण पर लगाए गंभीर आरोप

प्रेस वार्ता को संबोधित करते योगेश्वर महतो बाटुल
प्रेस वार्ता को संबोधित करते योगेश्वर महतो बाटुल

बोकारो । बोकारो विधायक एवं भाजपा के मुख्य सचेतक बिरंचि नारायण तथा बेरमो के पूर्व विधायक योगेश्वर महतो बाटुल के बीच जारी आरोप-प्रत्यारोप थमने का नाम नहीं ले रहा है । पिछले दिनों बोकारो विधायक ने माफी नहीं मांगने पर योगेश्वर महतो बाटुल पर दो करोड़ का मानहानि का मुकदमा दर्ज करने की चेतावनी दी थी । वहीं दूसरी ओर मंगलवार को पत्रकार सम्मेलन का आयोजन कर योगेश्वर महतो बाटुल ने बोकारो विधायक पर कई आरोप लगाए ।

बेरमो से भाजपा के पूर्व विधायक योगेश्वर महतो ने कहा कि बोकारो विधायक विरंची नारायण अपने परिवार वालों के संग मिलकर कई ट्रस्ट बनाकर वित्तीय अनियमितता करने का का काम किया है। परिवार का एक ट्रस्ट डिफॉल्टर घोषित हो गया। जिसमें कंपनी के सभी सदस्यों ने अपने को दिवालिया बताया । लेकिन इनके द्वारा अन्य दो अन्य कंपनी बनाई गई, जिसमें संपत्ति का जिक्र किया गया। ऐसे में बैंक को कार्रवाई करते हुए आम जनता के पैसे का रिकवरी करना चाहिए।

योगेश्वर महतो ने कहा कि बोकारो विधायक ने बारी कोऑपरेटिव में अपनी कंपनी के जरिए एक अपार्टमेंट बनाया। जिसका गलत तरीके से चास नगर निगम से नक्शा पास कराया गया। यह अपार्टमेंट जहाँ बना है वह माडा के क्षेत्र में आता है । ऐसे में उन्होंने अपने पावर का गलत इस्तेमाल किया है और बैंक सहित कई संस्थाओं को धोखे में रखने का काम किया है।

उन्होंने कहा कि अस्पताल बनाने को लेकर बियाडा से जो जमीन आवंटित की गई है वह भी गलत तरीके से किया गया है। इसकी भी जांच होनी चाहिए और संबंधित लोगों पर कार्रवाई होनी चाहिए । उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि अगर पार्टी तक मेरी शिकायत इस मामले को लेकर कोई करता है तो पार्टी के समक्ष पूरे तथ्यों के साथ अपनी बात को रखने का काम करेंगे।

विस्थापितों की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि मैं कभी भी भाजपा छोड़ने की बात नहीं की थी । विस्थापितों के सम्मेलन में मैं इतना जरूर कहा था की मैं पहले विस्थापित का बेटा हूं, उसके बाद भाजपा का एक समर्पित सिपाही । थाना मोड़ में जो कुआं है वह मेरे आंगन में हुआ करता था । 4 साल की उम्र में मैं भी विस्थापित हुआ था । इसलिए विस्थापित का जो दर्द मेरे सीने में है, वह गैर विस्थापित महसूस नहीं कर सकता है ।

पत्रकार सम्मेलन में विस्थापित नेता भी भी उपस्थित थे । वहीं दूसरी ओर भाजपा के मुख्य सचेतक बोकारो विधायक विरंची नारायण ने कहा है कि आरोप निराधार हैं तथा समय आने पर मैं इसका जवाब दूंगा ।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments