विस्थापितों के लिए नहीं, आजसू ने खुद के स्वार्थ के लिए करवायी थी भूख हड़ताल

उज्ज्वल दुनिया/रामगढ़ । पतरातू प्रखंड के अंतर्गत पीवीयूएनएल के विरोध में 8 दिनों से भूख हड़ताल विस्थापित एवं प्रभावित संघर्ष मोर्चा के द्वारा किया गया था। कल अंचल कार्यालय में त्रिपक्षीय वार्ता संपन्न हुई पर विस्थापितों और प्रभावितों के समस्यायों के समाधान हेतु कोई निष्कर्ष निकला। यह मोर्चा के आजसू के छिपे एजेंडा को दर्शाता है। मोर्चा ने 25 गांव के विस्थापितों और प्रभावितों को ठगा है।

मोर्चा ने पार्टी विशेष के स्वार्थ में विस्थापितों को ठगा

विधायक अंबा प्रसाद ने बताया कि मोर्चा और आजसू के लोगों ने विस्थापितों के लिए नहीं अपने खर्च के लिए भोली भाली जनता को 8 दिनों तक भूखे रखा ताकि इनकी खुद की स्वार्थ की पूर्ति हो सके। विधायक ने बताया कि उनकी पतरातु में विस्थापितों से मुलाकात से घबराकर इन लोगों ने आनन-फानन में प्रबंधन के साथ मिलकर कर विस्थापितों के साथ बहुत बड़ा विश्वासघात और धोखा देने का काम किया है।

षडयंत्र के पीछे हैं आजसू के रौशनलाल चौधरी – अंबा प्रसाद 

अंबा प्रसाद ने कहा कि विस्थापित प्रभावित जिसके लिए भूख हड़ताल किए उसके निराकरण के लिए अंचल के स्तर पर बैठक करा कर आजसू और मोर्चा ने अपना एजेंडा पूरा होने के बाद पल्ला झाड़ लिया।
यह लोग कभी विस्थापितों के लिए काम नहीं किए हैं, और ना ही करेंगे। विस्थापित ग्रामीण अब इन लोगों को समझ चुके हैं और अब इनकी बातों में आने वाले नहीं हैं।
इस सारे षड्यंत्र के नेतृत्व में आजसू के रोशन लाल चौधरी है जो कि विस्थापितों को ठगने में लगे हुए हैं और इनके भाई पूर्व में मंत्री रहते हुए पीटीपीएस को बेचने का काम किए थे। 

आजसू गुंडागर्दी और धमकी देना बंद करें- अंबा प्रसाद

विधायक अंबा प्रसाद ने बताया कि आजसू की तरफ से विस्थापित मोर्चा के अध्यक्ष हमारे समर्थकों को धमकी दे रहे हैं कि तुम लोगों को पतरातू घुसने नहीं देंगे जो कि दर्शाता है कि यह लोग अब गुंडागर्दी पर भी उतर गए हैं लेकिन मैं बता देना चाहती हूं कि हमारे सरकार में अराजकता फैलाने वालों की कोई जगह नहीं है और अब इन लोगों का गुंडागर्दी नहीं चलने दी जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: