Wednesday, February 28, 2024
HomeNationalविकास की ताली दोनों हाथों से बजती है, इसलिए बिहार में भी...

विकास की ताली दोनों हाथों से बजती है, इसलिए बिहार में भी चाहिए एनडीए की सरकार : सतपाल महाराज

दीघा विस क्षेत्र में भाजपा उम्मीदवार डॉ. संजीव चौरसिया के पक्ष में उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री ने की सभा

– कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश में विकास के नये-नये आयाम स्थापित किये जा रहे

– बिहार में पहले गड्ढ़ों में सड़कें थीं, अब फोर लेन पर सरपट दौड़ रहीं गाड़ियां, प्रत्यक्ष दिखाई दे रहा विकास

पटना (हि.स.)। उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने विपक्षी गठबंधन पर तंज करते हुए कहा कि हम बड़ी आसानी से कह देते हैं कि इतनी नौकरियां देंगे, जबकि नौकरी के लिए पहले पद सृजित करने पड़ते हैं। बजट लाना पड़ता है। जितनी लाख नौकरियां देंगे, उतने लाख का बजट भी चाहिए। अगर बजट नहीं है तो नौकरियां कहां से मिलेंगी। इसलिए बजट के लिए हमें केंद्र सरकार की तरफ देखना होगा। जिस तरह ताली दोनों हाथों से बजती है उसी तरह विकास की ताली भी दोनों हाथों से ही बजेगी। केंद्र में एनडीए की सरकार है और आगे जब आपके बिहार में भी एनडीए की सरकार होगी और तो निश्चित रूप में विकास की ताली बजेगी। वे शनिवार को पटना स्थित गर्दनीबाग के संजय गांधी स्टेडियम में दीघा विधानसभा क्षेत्र से एनडीए के प्रत्याशी डॉ. संजीव चौरसिया के समर्थन में आयोजित चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे।

सतपाल महाराज ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में आज देश में विकास के नये-नये आयाम स्थापित किये जा रहे हैं। देश रोज नये मुकाम हासिल कर रहा है। पहले जब हम बिहार में आते थे तो सड़कों पर बड़े-बड़े गड्ढे दिखाई देते थे। पता ही नहीं चलता था कि सड़क में गड्ढे हैं या गड्ढों में सड़क। आज यहां सड़कों पर सरपट गाड़ियां दौड़ रही हैं। चार लेन सड़कें बनाई जा रही हैं। विकास प्रत्यक्ष दिखाई दे रहा है। इसलिए बिहार में फिर से एनडीए की सरकार जरूरी है। सतपाल महाराज ने कहा कि मेरा सपना था कि उत्तराखंड के पहाड़ में रेल पहुंचाई जाए। उस सपने को भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साकार किया है। आज ऋषिकेश से कर्णप्रयाग के लिए रेल लाइन का कार्य बड़ी तेजी के साथ किया जा रहा है। 

महाराज जी के सद्प्रयास से इस बार भी बिहार में एनडीए की ही सरकारः रविशंकर प्रसाद

दीघा विधानसभा क्षेत्र की इस चुनावी सभा को संबोधित करते हुए विशिष्ट अतिथि केंद्रीय मंत्री व पटना के सांसद रविशंकर प्रसाद ने कहा कि सतपाल महाराज का पटना की धरती पर अभिनंदन और स्वागत करता हूं। चुनावी व्यस्तता के चलते सभा में आने में हुए विलम्ब के लिए क्षमा मांगते हुए उन्होंने कहा कि देश में सबसे पहले कोरोना होने वालों में सतपाल महाराज भी परेशान हुए। लेकिन जिस संयम का परिचय उन्होंने दिया, पूरे देश के लिए वह एक मिसाल है।

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि महाराज ने अपनी चिंता न करते हुए परिवार की चिंता की और देश के सामने संदेश दिया कि अंदर से हिम्मत हो, संकल्प हो तो कोरोना पर विजय प्राप्त हो सकती है। हमें विश्वास है कि महाराज जी की प्रेरणा और सभी के सद्प्रयासों से इस बार भी बिहार में एनडीए की ही सरकार बनेगी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments