पिछले लोकसभा चुनाव में अर्जुन मुंडा की जीत रावण की जीत है, राम की नहीं

उज्ज्वल दुनिया/खूंटी : कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने कहा कि सभी ने यह देखा है कि गत लोकसभा चुनाव सरकारी शक्तियों का इस्तेमाल कर जीता गया था। यह जीत रावण की है, राम की नहीं। यही कारण है कि खूंटी में मिली हार की गूंज पूरे देश ने सुनी थी। उन्होंने कार्यकर्ताओं से हौसला बनाए रखने की अपील करते हुए कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में हम सबकी नजर खूंटी सीट पर रहेगी। आप लोग पूरी लगन के साथ काम करते रहें, हम आगामी चुनाव में जीत का स्वाद जरूर चखेंगे। वे गुरुवार को पूर्व विधायक कालीचरण मुंडा के आवास पर आयोजित खूंटी लोकसभा क्षेत्र के जिला व प्रखंड अध्यक्षों की बैठक को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। 

संगठन और कार्यकर्ताओं के दम पर खड़ी है कांग्रेस 

इस मौके पर सभा को संबोधित करते हुए रामेश्वर उरावं ने कहा कि  किसी भी पार्टी के प्रमुख स्तंभ उसके कार्यकर्ता होते हैं। संगठन की वजह से ही पार्टी खड़ी होती है। चुनावी हार-जीत में संगठन का बहुत बड़ा हाथ होता है। इसलिए संगठन को मजबूत बनाकर ही चुनाव में जीत हासिल की जा सकती है। 

उन्होंने कार्यकर्ताओं से अपील करते हुए कहा कि वे मोदी सरकार के किसान विरोधी कानून को मुद्दा बनाकर गांव-गांव में लोगों को इस काले कानून के बारे में बताएं। यह कानून किसान तथा उपभोक्ता दोनों का ही विरोधी है। इससे पूंजीपतियों को लाभ होगा और मुनाफाखोरी बढ़ेगी। उन्होंने कार्यकर्ताओं से गत लोकसभा चुनाव से सबक लेते हुए नई ऊर्जा के साथ आगामी चुनाव में विजय हासिल करने का संकल्प लेने की अपील की।

कोरोना संकट के दौरान सरकार ने आठ लाख लोगों को रोजगार दिया- आलमगीर आलम 

विशिष्ट अतिथि ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम ने कहा कि चुनाव के हारने या जीतने में कार्यकर्ताओं का पूरा हाथ होता है। कार्यकर्ता पूरी लगन व मेहनत से एकजुट होकर धरातल पर काम करें तो सफलता मिलना तय है। उन्होंने कहा कि सरकार का गठन होते ही वैश्विक महामारी कोरोना के रूप में सामने आई विकराल समस्या का सरकार ने बखूबी सामना किया है। इस संकट की घड़ी में घर-घर लोगों को अनाज पहुंचाया गया। देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे लोगों को उनके घर तक पहुंचाया गया। साथ ही लगभग आठ लाख लोगों को रोजगार उपलब्ध कराया गया है। उन्होंने कहा कि गठबंधन की सरकार ने जो वादा किया है, उसे अवश्य पूरा किया जाएगा।

इससे पूर्व स्वागत भाषण देते हुए कालीचरण मुंडा ने कहा कि दशहरा के बाद वे गांव-गांव में दौरा कर संगठन को मजबूत बनाने का काम करेंगे। बैठक को कोलेबीरा विधायक नमन विक्सल कोनगाड़ी, पूर्व विधायक थियोडर किड़ो, लाल अजयनाथ शाहदेव, सुरेंद्र मिश्रा, सिमडेगा जिलाध्यक्ष अनूप केसरी, सरायकेला जिलाध्यक्ष छोटेराय किस्कू सहित अन्य प्रमुख कार्यकर्ताओं ने भी संबोधित किया। 

कार्यक्रम की अध्यक्षता व धन्यवाद ज्ञापन खूंटी जिलाध्यक्ष रामकृष्ण चौधरी ने किया और कार्यक्रम का संचालन ओमप्रकाश मिश्रा ने किया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से नईमुद्दीन खान, पीटर मुंडू, रोयल बाखला, सुशील सांगा, रामानंद तिवारी, रवि मिश्रा, मो. तैयब, रविकांत मिश्रा, सुहेल अंसारी, इजराइल अंसारी, विल्सन टोपनो, सयूम अंसारी एवं वेद प्रकाश मिश्रा समेत पूरे लोकसभा क्षेत्र से आए प्रमुख कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: