Thursday, February 22, 2024
HomeBreaking News"जस्टिस फार यास्मीन" के कैंडल मार्च को रोके जाने पर भड़का जनाक्रोश

“जस्टिस फार यास्मीन” के कैंडल मार्च को रोके जाने पर भड़का जनाक्रोश

पगमिल चौक पर भगदड़, पथराव, पुलिस को भांजनी पड़ी लाठियां, कई चोटिल

उज्ज्वल दुनिया संवाददाता/हजारीबाग। हजारीबाग के कटकमसांडी स्थित रोमी निवासी केबी वीमेंस कालेज की छात्रा सलीना यास्मीन का शव डालटनगंज में बरामद होने के बाद रविवार को यहां जनाक्रोश भड़क उठा। छात्रा के परिजनों और अन्य लोगों ने “जस्टिस फार यास्मीन” का नारा लगाते हुए शाम में कैंडल मार्च निकालना शुरू किया। भीड़ को देखते हुए प्रशासन ने कोरोना महामारी से बचाव के लिए कैंडल मार्च निकालने से मना किया।

इसपर जनाक्रोश भड़क उठा और  सभी पगमिल चौक पर बीच सड़क पर बैठ गए। भीड़ और सड़क जाम हटाने का प्रयास किया जाने लगा। पुलिस व प्रशासन पर छिटपुट पथराव हो गया। इससे भगदड़ मच गई। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को लाठियां भांजनी पड़ी। इस दौरान कई लोग चोटिल हुए हैं। सदर एसडीओ मेघा भारद्वाज, डीएसपी विवेकानंद ठाकुर सदलबल वहां पहुंचे हुए थे। स्थिति को नियंत्रण में कर लिया गया।

छात्रा के परिजनों का कहना है कि यास्मीन  को साजिश के तहत डालटनगंज बुलाकर उसकी बेरहमी से हत्या कर दी गई। हमलोग न्याय चाहते हैं। इस मामले में डालटनगंज पुलिस का रवैया सहयोगात्मक नहीं रहा है। आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी होनी चाहिए। केस ट्रांसफर कर हजारीबाग लाना चाहिए। इन मांगों के लिए ही कैंडल मार्च निकाला गया था। घटना के बाद से पुलिस पगमिल से रोमी तक नजर रखी हुई थी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments