Wednesday 29th \2024f May 2024 05:35:46 AM
HomeLatest Newsचेपाकला कोयले की ट्रांसपोर्टिंग नहीं होने देने की जिद पर अड़े रहे...

चेपाकला कोयले की ट्रांसपोर्टिंग नहीं होने देने की जिद पर अड़े रहे भू

ग्रामीणों से वार्ता के लिए बड़कागांव पहुंचे थे डीसी, एसपी और एसडीओ
……मामला एनटीपीसी की जमा 6.5 लाख टन कोयला खनन का
…..
पिंटू सोनी/उज्ज्वल दुनिया
…..
बड़कागांव। चेपा कला में ग्रामीणों और डीसी के बीच एनटीपीसी की जमा 6.5 लाख टन कोयले को निकालने संबंधित एक आम बैठक की गई। बैठक का मुख्य मुद्दा एनटीपीसी द्वारा खनन कर जमा किए गए कोयले की ट्रांसपोर्टिंग करने को लेकर थी। सभा को संबोधित करते हुए उपायुक्त आदित्य आनंद ने ग्रामीणों को आश्वस्त करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भूमि अधिग्रहण पर पूरी तरह से पाबंदी लगा दी है । यह पाबंदी तब तक रहेगी, जब तक ग्रामीण भू-रैयतों की मांग पूरी ना हो जाए।
उपायुक्त द्वारा जब ग्रामीणों से कोयला निकालने संबंधित मत जानने की कोशिश की गई, तो ग्रामीणों ने कहा कि 2013 अधिनियम के तहत आधारित उच्च स्तरीय कमेटी के पेपर पर एनटीपीसी के ईडी ने हस्ताक्षर क्यों नहीं किया, तो उपायुक्त का जवाब था की 2013 के अधिनियम को अच्छी तरह से पढ़ा जाए। उसमें आपकी बहुत सारी मांगें दर्ज नहीं की गई हैं। इसलिए पहले 2013 अधिनियम को बढ़िया से अध्ययन करें। इसके अलावा डीसी द्वारा लोगों को ट्रांसपोर्टिंग को लेकर समझाने भरकस प्रयास किया गया, परंतु ग्रामीण नहीं माने।
एक स्वर में ग्रामीणों ने अपना विरोध जताते हुए कहा कि जब तक हमारी मांगें पूरी नहीं की जाती, तब तक जमा कोयला किसी भी हालत में निकालने नहीं दिया जाएगा।
मौके पर उपायुक्त आदित्य आनंद , एसपी कार्तिक एस, एसडीओ विद्याभूषण एनटीपीसी कार्यकारी निदेशक प्रशांत कश्यप, बड़कागांव वीडियो प्रवेश कुमार ,सीओ वैभव कुमार सिंह, एसडीपीओ भूपेंद्र प्रसाद रावत, बड़कागांव थाना प्रभारी ललित कुमार, दाढ़ी कला थाना प्रभारी महेंद्र बैठा, पंचायत के मुखिया साधना कुमारी, सरिता पल्लवी के अलावा सैकड़ों ग्रामीण उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments