गैंगस्टर अमन साहू फरारी प्रकरण में एसडीपीओ अनिल सिंह ने थानेदार मुकेश को कहा था…*केस करो न जी, हम हैं न..*

फरारी के बाद मुकेश को दोषी बता दिया था एसडीपीओ अनिल सिंह, एसपी ने किया था सस्पेंड
अमन फरारी मामले में चौकीदार और थानेदार ने खोली पूरी पोल


अजय निराला/  उज्ज्वल दुनिया संवाददाता
हजारीबाग। बड़कागांव थाना से गैंगस्टर अमन साहू के फरारी प्रकरण में सीआईडी ने जांच पूरी कर लिया है। जांच पूरी कर जिम्मेवार अधिकारियों को भी चिन्हित कर लिया है। बड़कागांव थाना से 27 सितंबर को नाटकीय ढंग से गैंगस्टर अमन साहू भाग गया था। उसके भागने के बाद से ही घटना को संदेहास्पद मान पुलिस की भूमिका सवालों के घेरे में रही है।

संदेहास्पद घटना के कारण सीआईडी ने जांच शुरू किया। सीआईडी जांच में अमन साहू फरारी प्रकरण में दर्ज बड़कागांव थाना कांड संख्या 169/19 के सूचक भुवनेश्वर पासवान ने अपने बयान में फर्जी कहानी बना केस किए जाने की जानकारी दे चौंका दिया। भुवनेश्वर पासवान ने सीआईडी को बताया कि अमन हाजत से शौच के बहाने बाहर निकल हमला कर नहीं,  बल्कि गेस्ट हाउस से भाग गया था ।इसके बाद तत्कालीन थानेदार मुकेश यादव ने सीआईडी के सामने सभी राज उगल दिया। मुकेश कुमार ने उस ऑडियो को सीआईडी को सौंप दिया। इसमें उस प्रकरण के सभी डिटेल्स मौजूद है। विश्वस्त सूत्रों के अनुसार मुकेश यादव को बड़कागांव थाना में रखने से लेकर अमन के भागने के बाद तक केस करने को तैयार नहीं था। एसडीपीओ अनिल सिंह के कहने और दबाव देने पर अमन को बड़कागांव थाना के गेस्ट हाउस में रखा गया और अमन के भागने के बाद  एसडीपीओ अनिल सिंह ने मुकेश को यह कहा था कि “केस करो न जी,हम हैं न, कुछ नहीं होगा”उसके बाद चौकीदार भुवनेश्वर पासवान के बयान पर बड़कागांव में फर्जी कहानी बना केस दर्ज किया गया था।एसडीपीओ-एसपी के कहने पर किया सब कुछ लेकिन बाद में एसडीपीओ-एसपी ने कर दिया थानेदार पर कार्रवाई

बड़कागांव थाना से 27 सितंबर को गैंगस्टर अमन साहू के फरार होने के बाद मामला सार्वजनिक होने के बाद तत्कालीन एसपी मयूर कन्हैया लाल पटेल ने एसडीपीओ को जांच का आदेश दिया। एसडीपीओ अनिल सिंह ने जांच में फर्जी कहानी बना केस की बात छुपाते हुए तत्कालीन थानेदार मुकेश कुमार को दोषी बताते हुए कार्रवाई की अनुशंसा किया था। एसपी ने मुकेश कुमार की सस्पेंड कर मात्र एक सप्ताह में रिलीज कर दिया था।

सीआईडी ने गुनाहगार-पनाहगार पर कार्रवाई के लिए पुलिस मुख्यालय को लिखा पत्रसीआईडी ने जांच पूरी कर पुलिस मुख्यालय को पत्र लिखकर गैंगस्टर अमन साहू फरारी प्रकरण में उसके गुनाहगारों-पनाहगारों पर कार्रवाई के लिए पत्र लिख दिया है। सीआईडी ने दोषी अधिकारियों के साथ अमन को भगाने में मदद करने वाले जेल में बंद एक पूर्व उग्रवादी को चिन्हित कर कार्रवाई के लिए पत्र लिखा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: