Wednesday, February 28, 2024
HomeLatest Newsकेरल में मारे गए मज़दूरों के परिवार को मुआवजा दे हेमंत सरकार

केरल में मारे गए मज़दूरों के परिवार को मुआवजा दे हेमंत सरकार

पंकज यादव ने पत्र लिखकर मुख्यमंत्री से मांग की

उज्ज्वल दुनिया/ रांची ।  पलामू जिले के 3 प्रवासी मजदूरों की केरल में पीट कर हत्या कर देने के मामले में पंकज कुमार यादव ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से 2500000 रुपए प्रति परिवार मुआवजे की मांग की है. पंकज यादव ने पत्र के माध्यम से यह भी निवेदन किया है कि केरल के पलक्कड़ जिले में मारे गए मजदूरों के हत्यारों को कठोर से कठोर सजा मिले यह मॉब लिंचिंग का मामला है. और हत्यारों को फास्ट ट्रैक कोर्ट के तहत जल्द सजा सुनाया जाए. पंकज यादव ने मृत मजदूरों  कन्हैया विश्वकर्मा , महागामा निवासी अरविंद राम और हरिओम कुमार के परिवारों से बात की और उन्हें  आश्वस्त किया कि उन्हें न्याय जरूर मिलेगा .

पंकज यादव ने कहा कि  कोरोना के इस महामारी में मज़दूर आर्थिक परेशानी झेल रहे हैं .और केंद्र तथा राज्य सरकार के द्वारा मिल रही मदद उनके लिए नाकाफी है यही कारण है कि मजदूर अब पलायन करने को मजबूर हैं .उल्लेखनीय है कि केरल के कोझिकोड स्थित आई आई परिसर के पास रेलवे ट्रैक पर तीन मजदूरों का  शव मिला था . तीनों मजदूर एक महीना पहले गढ़वा और पलामू से मजदूरी के लिए केरल गए हुए थे और शाम के समय सब्जी खरीदने के लिए बाहर निकले थे. और स्थानीय लोगों ने इन्हें कोरोना  पीड़ित समझ कर पीट पीट कर हत्या कर दी और लाश रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया. मजदूरों के परिवारों को अभी तक मदद नहीं मिलने की स्थिति में पंकज यादव ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है.

 सोशल एक्टिविस्ट पंकज कुमार यादव मजदूरों के हक के लिए हमेशा लड़ते रहते हैं. उन्होंने मजदूर कानून में परिवर्तन के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका दायर की थी जिसके बाद इन राज्यों ने श्रम कानून में बदलाव को वापस ले लिया था .पंकज यादव ने विश्वास जताते हुए कहा कि मुझे विश्वास है कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन मेरे पत्र पर संज्ञान लेंगे और जिस प्रकार कोविड-19 के महामारी के दौरान मजदूरों को मदद की थी उसी प्रकार दुखी मजदूर के परिवारों को मदद पहुंचाएंगे.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments