छात्रों में यूपीएससी का क्रेज है बरकरार, इंजीनियरिंग में कंप्यूटर साइंस है 70 प्रतिशत की चाहत

एक्सएलआरआइ में वार्षिक करियर काउंसेलिंग सत्र दिशा-2022 आयोजित, शहर के 493 स्कूली बच्चों ने लिया हिस्सा
एक्सएलआरआइ में वार्षिक करियर काउंसेलिंग सत्र, शहर के 493 स्कूली बच्चों ने लिया हिस्सा

जमशेदपुर। एक्सएलआरआइ में वार्षिक करियर काउंसेलिंग सत्र दिशा 2022 का आयोजन किया गया. वर्चुअल मोड में आयोजित इस सत्र में शहर के सात अलग-अलग स्कूलों के कुल 493 विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया. इस दौरान ना सिर्फ उनके पसंद के क्षेत्र की जानकारी हासिल की गयी, बल्कि उस लक्ष्य को साधने के लिए क्या कुछ करने होंगे, इसकी भी जानकारी उन्हें दी गयी।

इस मौके पर मुख्य वक्ता के रूप में करियर कंपास काउंसेलिंग सर्विस की हेड काउंसेलर प्रीति मेहरा उपस्थित थी। सुश्री मेहरा ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि वे अपना करियर चुनने से पहले अपनी ताकत का ठीक से आकलन करने के महत्व पर बल। इस दौरान उन्होंने विद्यार्थियों से उनके लक्ष्य से जुड़े सवाल किये, जिसमें पाया गया कि अधिकांश विद्यार्थी यूपीएससी की परीक्षा पास कर सफल लोक सेवक बनना चाहते हैं। इसके साथ ही बच्चों में रक्षा और कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग में भी काफी रुचि थी।

कुछ छात्रों ने इलेक्ट्रिकल और मैकेनिकल इंजीनियरिंग को भी चुना लेकिन सिविल इंजीनियरिंग जैसे क्षेत्रों के प्रति विद्यार्थियों की रुचि सबसे कम देखी गयी। गौरतलब है कि एक्सएलआरआइ द्वारा हर साल शहर के स्कूली बच्चों को उनके लक्ष्य चुनने के साथ ही उस लक्ष्य को किस प्रकार से हासिल किया जाये, इसे लेकर करियर काउंसेलिंग सत्र का आयोजन किया जाता रहा है। कोविड संक्रमण के कारण पिछले साल भी इसे वर्चुअल मोड में किया गया था. पिछले साल इसमें 7 स्कूलों के 350 छात्रों ने भाग लिया था।

हालांकि इस वर्ष स्कूलों की संख्या समान रही, लेकिन इस वर्ष 493 छात्रों के भाग लिया। जबकि एक्सएलआरआइ के टीम सामर्थ से जुड़े करीब 80 वोलेंटियरों ने भी हिस्सा लिया. इस दौरान मेडिकल, संगीत व ललिता कला के साथ ही फैशन टेक्नोलॉजी समेत कई अन्य क्षेत्र के बारे में काफी जानकारी दी गयी। इस दौरान विद्यार्थियों द्वारा पूछे गये सवालों का जवाब भी दिया गया। साथ ही विभिन्न प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी की, और आगामी बोर्ड परीक्षाओं में अच्छा स्कोर करने के लिए कुछ उपयोगी टिप्स भी प्रदान किए गये। एक्सएलआरआइ द्वारा कई विद्यार्थियों को तैयारी से संबंधित समस्या आने पर हर संभव सहयोग करने की भी बात कही गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.