2024 तक पांच हजार करोड़ की लागत से पूरे राज्य में बिछेगा सड़कों का जाल: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने पलामू प्रमंडल के लिए की योजनाओं की बरसात
मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने पलामू प्रमंडल के लिए की योजनाओं की बरसात

नंदकिशोर भारती

मेदिनीनगर (उज्ज्वल दुनिया)। आपके अधिकार-आपकी सरकार, आपके द्वार कार्यक्रम के तहत प्रमंडलस्तरीय मेगा परिसंपत्ति वितरण शिविर में पलामू पहुंचे सूबे के मुखिया हेमंत सोरेन योजनाओं की बौछार कर दी। स्थानीय पुलिस स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में कोरोना काल के दौरान थम गई विकास की गति पर चर्चा करते हुए हेमंत सोरेन ने कहा कि इस दौरान सरकार सोई नहीं थी, बल्कि योजनाओं का खाका तैयार कर रही थी।

150 करोड़ से शुरू होगी मेदिनीनगर पेयजलापूर्ति योजना

सीएम ने कहा कि जल्द मेदिनीनगर जलापूर्ति योजना के लिये 150 करोड़ दी जायेगी। प्रस्ताव बनकर तैयार है और अगली कैबिनेट में इसे पारित करा दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि पलामू प्रमंडल रेन शेडोएरिया है। यहां पेयजल व सिंचाई की समस्या है। इसे ध्यान में रखते हुए सरकार ने कई योजना बनाई है। उन्होंने कहा कि सिंचाई के क्षेत्र में गढ़वा जिले के लिये सोन कनहर परियोजना व 800 करोड़ की लागत से पलामू में पाइप लाइन योजना बिछाने की तैयारी की जा रही है। कैबिनेट में इसे भी शीघ्र ही पारित करा दिया जायेगा। उन्हांेने कहा कि 2024 तक पांच हजार करोड़ की लागत से पूरे राज्य में सड़कों का जाल बिछा दिया जायेगा।

सिंचाई के लिये 800 करोड़ की लागत से बिछेगा पाईपलाइन

उन्होंने कहा कि बहुत जल्द लगभग 800 करोड़ की लागत से कुड़ू से मुड़ीसेमर तक कार्य के लिये निविदा निकाली जानी है और काम भी शुरू होगा। उन्होंने कहा कि लातेहार में 250 करोड़, गढ़वा में 400 व पलामू में 120 करोड़ की लागतवाली योजनाओं पर काम चल रहा है या यह अभी पाईपलाइन में है। उन्होंने कहा कि लोगों को शीघ्र ही विकास दिखने लगेगा।

सरकार स्वरोजगार के लिए दे रही है मदद

रोजगार की चर्चा करते हुए सीएम हेमंत सोरेन ने कहा कि हमारी सरकार में गरीबों को योजनाओं का सीधा लाभ मिल रहा है। सरकार लोगों को हुनरमंद योजना के तहत ट्रैक्टर, स्कार्पियो, पिकअप आदि बांट रही है। इस योजना का लाभ लेकर लोग अपना व्यवसाय बढ़ा सकते हैं। उन्होंने कहा कि सरकार हर व्यवसाय के लिये मदद दे रही है। सैलून खोलना हो चाहे अन्य कोई दुकान आप मदद ले सकते हैं। उन्होंने कहा कि महिलाओं के लिये फूलो झानो आशीर्वाद योजना शुरू कर गई है। इसके तहत भी महिलाओं को रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार लोगों को पैसे की जरूरत को पूरी करते हुए हर 60 वर्ष के बुजुर्ग व्यक्ति को पेंशन देने के लिये हमने कानून बनाया है। अब इसके लिये बीपीएल की कोई आवश्यकता नहीं है।

उन्होंने कहा कि एकल महिला को भी पेंशन दिया जायेगा जो राज्य में पहली योजना है। उन्होंने कहा कि लोगों को समस्या को दूर करते हुए वस्त्र वितरण के तहत लुंगी, धोती साड़ी व कंबल का वितरण किया जा रहा है।

आज डॉक्टर-इंजीनियर भी कर रहे हैं खेती

उन्होंने एक उदाहरण देते हुए लोगों को बताया कि लातेहार जिले में एक व्यक्ति ने बंजर भूमि पर आम पेड़ की बागवानी की। इस कार्य में उसका कुछ नहीं लगा। सारा कार्य मनरेगा से हुआ लेकिन इसका लाभ उसे जल्द ही मिलना शुरू हो जायेगा। उन्होंने इस तरह का लाभ लेने की अपील अन्य लोगों से भी की। उन्होंने कहा कि आज इंजीनियर व डाॅक्टर भी खेती की ओर रूख कर रहे हैं। उन्होंने किसानों द्वारा धान क्रय की चर्चा करते हुए कहा कि पहले यहा पलामू में मकड़जाल जैसा था, लेकिन हमने इस समस्या को दूर किया है। अब किसान केंद्र पर धान बेचेंगे और उन्हें तुरंत एकमुश्त उनका पैसा मिल जायेगा। कल ही इसके लिये कैबिनेट में प्रस्ताव पास किया गया है।

उन्होंने कहा कि राज्य में राइस मिल की कमी को दूर करने के लिये सरकार ने योजना बनाई है। 29 दिसंबर को एक साथ 15 राइस मिल का शिलान्यास होगा और किसानों का धान सही समय पर राज्य में ही खरीदा जा सकेगा।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कार्यक्रम का उद्देश्य बताते हुए कहा कि यह पंचायतों में चल रहे शिविर का बड़ा रूप है। इस माध्यम से सुदूर ग्रामीण क्षेत्र के लोग सरकार की योजनाओं को जान सकेंगे। उन्होंने कहा कि गांव के लोग शहर आने के लिये 50 बार सोचते हैं। प्रखंड में काम होगा या नहीं, जिला में काम नहीं होता है। सारी योजनाएं कागजी होती थी। इसीलिये सरकार आपके द्वारा कार्यक्रम चलाया। गांव में आय बढ़ेगी तो राज्य का भी विकास होगा। उन्होंने कहा कि हमारी हर योजना में प्राथमिकता में ग्रामीण शामिल हैं।

इससे पूर्व स्वागत भाषण प्रमंडलीय आयुक्त जटाशंकर चैधरी ने दिया। उन्होंने बताया कि यह शिविर प्रमंडल के लोगों के लिये मील का पत्थर साबित होगी। उन्होंने कहा कि प्रमंडल में तीनों जिला को निर्देशित किया गया है कि लोगों की समस्याओं का आॅन-स्पाॅट निष्पादन करें। सर्विस डिलीवरी भी बिना बाधा के जारी रहे। उन्होंने कहा कि अब तक 1.5 में से एक लाख आवेदन का निष्पादन किया जा चुका है। शेष आवेदन भी ससमय निष्पादित करने का प्रयास सुनिश्चित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि यह ऐतिहासिक पल है और इस शिविर में 8.5 करोड़ की संपत्ति का वितरण किया जाना है।

कार्यक्रम में पेयजल स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर, श्रम नियोजन मंत्री सत्यानंद भोक्ता, पांकी विधायक डाॅ. शशिभूषण मेहता, छतरपुर विधायक पुष्पा देवी, डालटनगंज विधायक आलोक चैरसिया, लातेहार विधायक बैजनाथ राम, मनिका विधायक रामचंद्र सिंह, जिप अध्यक्ष प्रभा देवी प्रमंडलीय आयुक्त जटाशंकर चैधरी, डीआईजी राजकुमार लकड़ा, शिविर के नोडल अधिकारी कृपानंद झा, ग्रामीण विकास सचिव सुनील कुमार आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *