आंधी के साथ तेज बारिश ने पश्चिम बंगाल में बरपाया कहर, राज्य में अबतक तीन की मौत

कोलकाता: देश के कई इलाके जहां एक ओर भीषण गर्मी में झुलस रहे है तो वहीं दूसरी ओर पश्चिम बंगाल आंधी तूफान से होने वाली तबाही से जूझ रहा है. बंगाल में कोलकाता सहित बंगाल के दक्षिणी जिलों में आंधी-तूफान के साथ तेज बारिश हुई. तेज आंधी तूफान के बीच बिजली का तार गिरने से पूर्व मेदिनीपुर जिले के नंदीग्राम में 1 महिला और उसके बेटे की मौत हो गई. वहीं खड़गपुर में एक आंधी के बीच बांस का बना गेट युवक के ऊपर गिरने से उसकी मौत हो गई. आंधी-तूफान के कारण राज्य के कई जिले में पेड़ उखड़ गए और बिजली के खंबों को भी नुकसान पहुंची है.

नदिया जिले में आंधी के कारण पेड़ की टहनी टूटकर गिरने से रवींद्रनाथ प्रमाणिक नामक एक व्यक्ति की मौत हो गई. इसके अलावा एक अन्य व्यक्ति आंधी की चपेट में आकर घायल भी हो गया. दक्षिण दिनाजपुर जिले के बालूरघाट में तेज आंधी तूफान की वजह से कई गांवों में भारी नुकसान पहुंचा है. इधर, पूर्व बर्धमान जिले के कटवा-अजीमगंज शाखा में रेल पटरी के उपर ओवरहेड तार पर पेड़ की टकनी गिरने की वजह से ट्रेन सेवाएं प्रभावित हो गई.

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार राज्य में फिर से चक्रवात आने की संभावना है. मौसम विभाग ने मई के पहले सप्ताह में चक्रवात के संकेत दिए हैं. जारी रिपोर्ट के अनुसार, इस समय दक्षिण बंगाल में दक्षिण-पश्चिमी हवा चल रही है, जो उत्तर प्रदेश से पश्चिम बंगाल तक गंगीय क्षेत्र में एक निम्न दबाव बना रही है. इसके प्रभाव से राज्य में अगले 4 से 5 दिनों तक हल्की और तेज बारिश की संभावना है. कोलकाता और पड़ोसी राज्य झारखंड और बिहार के सीमावर्ती जिलों में भी बारिश की संभावना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.