भ्रष्टाचार में मधु कोड़ा सरकार को भी पीछे छोड़ चुकी है मौजूदा हेमंत सरकार: दीपक प्रकाश

 

मधु कोड़ा के समय भी यही लोग सत्ता में साझेदार थे- दीपक प्रकाश
मधु कोड़ा के समय भी यही लोग सत्ता में साझेदार थे- दीपक प्रकाश

रांची।  भ्रष्टाचार,  लूट-खसोट, खदान आवंटन, बालू, शराब माफिया, कोयला पत्थर सहित हर तरह के भ्रष्टाचार में लिप्त मौजूदा हेमंत सरकार ने मधु कोड़ा की सरकार को भी पीछे छोड़ दिया है । ऐसा लगता है मानो सोरेन खानदान पूरे झारखंड को बेचकर अपना तिजोरी भरने के मिशन में जुटी है । ये बातें झारखंड भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने शव यात्रा कार्यक्रम के दौरान कही ।

भाजपा ने हेमंत सरकार के भ्रष्टाचार के खिलाफ झारखंड के सभी जिला मुख्यालयों सहित कुल 27 जगहों पर शवयात्रा निकाली । इस मौके पर बोलते हुए दीपक प्रकाश ने कहा कि राज्य सरकार के नाक के नीचे भ्रष्ट अधिकारी के दोनों हाथ भ्रष्टाचार में लिप्त है।

दीपक प्रकाश ने कहा कि बिना सरकार के संरक्षण के खनिज संपदा की लूट नही हो सकती। राज्य से कोयला,बालू, स्टोन चिप्स के अवैध उत्खनन एवम तस्करी की जांच हो, जिससे यह साबित हो सके कि इस लूट में कौन कौन राजनेता,पदाधिकारी और पुलिस पदाधिकारी शामिल हैं। मधु कोड़ा प्रकरण को भी यह सरकार पीछे छोड़ चुकी है। सत्ता में बैठें हुए लोग एवं भ्रष्ट अधिकारियों की मिलीभगत से राज्य के खनिज संसाधन को लूटा जा रहा है।

दीपक प्रकाश ने हेमंत सरकार को भ्रष्टाचार में लिप्त होने और भ्रष्ट अधिकारियों को संरक्षण दिये जाने का आरोप लगाया।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के संरक्षण में यह लूट जारी है।अब जब इडी के जरिये भ्रष्ट अधिकारियों की लूट कथा सामने आ रही है तो कांग्रेस, झामुमो और राजद जैसी पार्टियां इसका समर्थन करने की बजाये विरोध करने में लगी हैं। राज्य सरकार में अगर नैतिक साहस है तो पूजा सिंघल प्रकरण की सीबीआई जांच की अनुशंसा करे।

दीपक प्रकाश ने कहा कि खान सचिव के ठिकानों पर छापेमारी से अवैध तरीकों से अर्जित पैसे का मामला सामने आया है। जब केवल सचिव के ठिकानों से इतने पैसों की बरामदगी सामने आ रही है तो सरकारी नुमाइंदों के पास कितनी राशि होगी, यह समझना कठिन नहीं। राज्य सरकार और झामुमो अगर जांच एजेंसियों की भूमिका पर सवाल उठा रहे हैं तो यह गलत है।

कार्यक्रम में विधायक सीपी सिंह,प्रदेश मंत्री सुबोध सिंह गुड्डू,विधायक नवीन जायसवाल, काजल प्रधान, अशोक बड़ाईक, प्रतुल शाहदेव, केके गुप्ता, वरूण साहू, बलराम सिंह,नीरज सिंह,जितेंद्र सिंह पटेल,सीमा सिंह,ललित ओझा,सूर्यप्रभात, रोमित नारायण सिंह, अनिता वर्मा सहित सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.