सिमडेगा पुलिस ने 55 किलो चोरी की चांदी आपस में बांट लिया, जब पकड़े गये तो इंस्पेक्टर ने काट ली हाथ की नस

चांदी की बरामदगी के बाद प्रेस कान्फ्रेस करती सिमडेगा पुलिस
चांदी की बरामदगी के बाद प्रेस कान्फ्रेस करती सिमडेगा पुलिस

झारखंड की सिमडेगा पुलिस की चोरी पकड़ी गई । मामला 6 अक्टूबर का है जब सिमडेगा के बांसजोर पुलिस द्वारा वाहन जांच के दौरान 25 लाख रुपए के चांदी के गहने की बरामदगी की गई थी । उस दिन जिले के पुलिस कप्तान चांदी की बरामदगी करने वाले अपने अफसर की जांबाजी की तारीफ करते नहीं थक रहे थे । तब शायद उन्हें यह मालूम नहीं था कि यह मामला उनकी किरकिरी कराने वाला है । दरअसल यह मामला रायपुर के एक ज्वेलरी दुकान से 80 लाख के गहनों की चोरी से जुड़ा है ।

चोर चोरी के बाद ओडिशा होते हुए झारखंड में प्रवेश करने पर बांसजोर पुलिस के हत्थे चढ़े थे । पुलिस के अनुसार 4 लोगों को गिरफ्तार करते हुए 25 लाख के चांदी के गहने बरामद किए गए थे । छत्तीसगढ़ पुलिस द्वारा झारखण्ड पुलिस पर 55 लाख के गहने गायब कर देने के आरोप के बाद पुलिस मुख्यालय द्वारा जांच शुरू करते हुए चौकी प्रभारी आशीष कुमार सहित 4 पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया गया ।

अब मामले में रोज नए खुलासे हो रहे हैं । शनिवार को बांसजोर में लुड़गी नदी से 18 लाख के गहने बरामद किए गए । इसके बाद आज आरोपी निलंबित चौकी प्रभारी ने अपने हाथ के नस को काट कर आत्महत्या करने की कोशिश की । उन्हें गंभीर अवस्था में अस्पताल में भर्ती कराया गया है । उसने अपने सुसाइड नोट में अपना जुर्म स्वीकार करते हुए अपने सहकर्मी पर आरोप लगाते हुए कहा है कि उसके बहकावे में आकर उसने ऐसा जुर्म किया है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com