राष्ट्रीय खेल घोटाले के याचिकाकर्ता के परिजनों के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट के तहत केस

भ्रस्टाचार के खिलाफ मेरी लड़ाई की कीमत मेरे अपने चूका रहे हैं : पंकज यादव
भ्रस्टाचार के खिलाफ मेरी लड़ाई की कीमत मेरे अपने चूका रहे हैं : पंकज यादव

पंकज यादव के रिश्तेदारों पर फर्जी एसटी -एससी मुकदमा दर्ज करने का आरोप

राष्ट्रीय खेल घोटाले की जाँच सीबीआई को दिलाने वाले याचिकाकर्ता पंकज यादव के रिश्तेदारों पर फ़र्ज़ी एसटी- एससी केस दर्ज कर पांच घंटे के अंदर पुलिस उनके रिश्तेदारों को धड़ -पकड़ की कोशिस तेज कर दी है  । पंकज यादव ने पहले ही आशंका जताई थी कि सरकार से जुड़े हुए लोग उनको या उनके परिवार को कभी भी झूठे एसटी- एससी केस में फंसा सकते हैं या जान माल की छति पंहुचा सकते हैं । इसको लेकर वो पहले ही न्यायालय में क्रिमिनल रिट याचिका दायर कर चुके हैं ।

पंकज यादव ने मीडिया को बताया कि गढ़वा जेएमएम के युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष सह बीससूत्री उपाध्यक्ष नितेश सिंह के समर्थकों ने गढ़वा जिला के चिनिया थाना अंतर्गत सिगसीगा गांव में भुइयां समाज के लोगो के साथ मारपीट की और बिच बचाव में आये मेरे ममेरा भाई के साथ भी मार पिट कर पुरे परिवार पर एसटी – एससी केस लगवा दिया यह कहते हुए कि तुमलोग हेमंत सरकार के विरोधी हो पंकज यादव के रिश्तेदार हो , सबको सबक सिखाएंगे  ।

पंकज यादव ने बताया कि रंका डीएसपी सुदर्शन कुमार आस्तिक ,रंका थाना प्रभारी रामेश्वर उपाध्याय दल बल के साथ रात बारह बजे बगैर महिला पुलिस लिए घर में सर्च कर रहें हैं.मेरे रिश्तेदारों को जेल में डालने का दवाब प्रशासन पर हो रहा है . मंत्री मिथलेश ठाकुर के दवाब में प्रसाशन नियमों की धज्जियां उड़ा रही है .पंकज यादव ने कहा कि बंधू तिर्की की प्रेस कांफ्रेंस की धमकी सही सिध्य हो रही है .उन्होंने कहा की कि आइए के माध्यम से पुरे प्रकरण की जानकारी कल माननीय न्यायालय को उपलब्ध कराऊंगा .

Leave a Reply

Your email address will not be published.