जहांगीरपुरी हिंसा को लेकर संजय राउत ने बीजेपी पर साधा निशाना, बदले में एमएनएस ने दी चेतावनी

नई दिल्ली: जहांगीरपुरी इलाके में हनुमान जयंती के दिन शोभा यात्रा पर हुए पथराव के मुद्दे को लेकर दिल्ली से लेकर अन्य राज्य तक राजनीति टिपण्णी शुरू हो गई है. भड़की हिंसा को लेकर शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत ने केंद्र में बैठी भाजपा पर निशाना साधा है. संजय राउत ने कहा, ‘राजनीतिक फायदे के लिए जानबूझकर देश का माहौल खराब किया जा रहा है. रामनवमी और हनुमान जयंती पर पहले कभी ऐसी घटनाएं नहीं हुईं, ये त्योहार शांतिपूर्ण ढंग से मनाए जाते थे. ये घटनाएं पूर्व-नियोजित और राजनीतिक रूप से प्रायोजित हैं.” संजय राउत ने इस घटना के पीछे देश में हिंदू-मुस्लिम दंगा भड़काने की मंशा बताई है.’

शिवसेना नेता संजय राउत ने इस संबंध में कहा कि महाराष्ट्र में भी शांति को खतरे में डालने की कोशिश की गई, लेकिन यहां के लोग शांत हैं और पुलिस मुस्तैद है. इशारों में राज ठाकरे पर और भाजपा पर निशाना साधते हुए संजय राउत ने कहा, ‘राज्य के ‘न्यू ओवैसी’…’हिंदू ओवैसी’…के जरिए कुछ लोगों का मिशन था राम और हनुमान के नाम पर दंगा भड़काना. लेकिन शिव सेना ऐसा नहीं होने देगी.

हालांकि राउत के प्रतिक्रिया का जवाब देने के लिए मुंबई में शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ के कार्यालय के सामने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना कार्यकर्ताओं ने राज ठाकरे की तस्वीर वाला एक बड़ा पोस्टर लगाया है. इस पोस्टर के जरिए एमएनएस ने शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत को चेतावनी दी है. इस पोस्टर में कहा गया है कि कुछ साल पहले एमएनएस  कार्यकर्ताओं ने संजय राउत की कार पलट दी थी, क्या इसे दोहराया जाना चाहिए? साथ ही इस पोस्टर में लिखा गया है कि संजय राउत अपना लाउडस्पीकर बंद करें नहीं तो एमएनएस अपने स्टाइल में उनका लाउडस्पीकर बंद कराएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.