हजारीबाग: बच्चे की मौत के बाद शेख भिखारी मेडिकल कॉलेज में हंगामा

गेट जाम कर शव के साथ प्रदर्शन कर रहे लोग
एक तरफ बच्चे के परिजन हंगामा कर रहे थे तो दूसरी ओर एंबुलेंस चालक वेतन की मांग को लेकर आंदोलन करने लगे

उज्ज्वल दुनिया संवाददाता/ अजय निराला

हजारीबाग। हजारीबाग के चुरचू से आए एक बच्चे की इलाज के दौरान मौत के बाद परिजनों ने शेख भिखारी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में मंगलवार को जमकर हंगामा किया। बच्चे के शव के साथ गेट जाम कर प्रदर्शन किया। परिजनों का आरोप था कि बच्चे के इलाज में लापरवाही बरती गई।

हजारीबाग अस्पताल में चुरचू के किसान अनिल राम के 15 वर्षीत्र पुत्र ऋषि कुमार की मौत हो गई। उसके बाद परिजनों ने मंगलवार को सदर अस्पताल के मेन गेट पर ताला जड़ दिया और बेटे का शव रखकर न्याय मांगने लगे। मेडिकल कॉलेज अस्पताल के डॉक्टर मनोज भगत पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कार्रवाई करने की मांग कर रहे थे।

मेडिकल कॉलेज अस्पताल का एक गेट पहले से ही बंद रखा गया है। उधर काम चल रहा है। ऐसे में अस्पताल कैंपस के अंदर के लोग अंदर ही फंस गए। बाहर से भी मरीज और उसके परिजन आ-जा नहीं पा रहे थे। इधर 108 एंबुलेंस के चालक भी वेतन की मांग को लेकर नारेबाजी करने लगे। साथ ही गेट के पास ही धरने पर बैठ गए।

उन्हें सात माह से वेतन नहीं मिला है और कोविड पीरियड का पैसा भी बकाया है। एक साथ दो-दो आंदोलन और गेट जाम से अस्पताल में अफरातफरी का माहौल बन गया। मृत बच्चे के परिजनों का कहना था कि जब तक शेख भिखारी मेडिकल कॉलेज अस्पताल के अधिकारियों पर मामला दर्ज नहीं होगा एवं कार्रवाई नहीं की जाएगी, तब तक यह आंदोलन चलता रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *