राज्यसभा चुनाव: एनडीए में रघुवर के नाम की चर्चा, झामुमो-कांग्रेस के बीच तल्खी

एनडीए से रघुवर दास के नाम की चर्चा
एनडीए से रघुवर दास के नाम की चर्चा

रांची । झारखंड में राज्यसभा चुनाव को लेकर एनडीए और महागठबंधन के उम्मीदवारों पर कयास का दौर जारी है । मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो एनडीए रघुवर दास को राज्यसभा उम्मीदवार बनाने जा रहा है । आजसू और निर्दलीय अमित यादव भी रघुवर दास का समर्थन कर सकते हैं।  हालांकि एनडीए रघुवर दास को उम्मीदवार बनाएगी या किसी बाहरी को, इसपर आधिकारिक रूप से अबतक कुछ नही कहा गया है ।

झामुमो-कांग्रेस के बीच तीखी बयानबाजी

क्या कल्पना सोरेन होंगी झामुमो की उम्मीदवार?
क्या कल्पना सोरेन होंगी झामुमो की उम्मीदवार?

राज्यसभा चुनाव में उम्मीदवार को लेकर झामुमो-कांग्रेस के बीच शुक्रवार को तल्खी देखी गई।  झामुमो के केंद्रीय महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि राज्यसभा में कांग्रेस याचक की भूमिका में है और याचना आंखें दिखाकर नही की जाती । सुप्रियो भट्टाचार्य ने यह भी कहा कि झामुमो के पास पर्याप्त संख्याबल है । हमारे 30 विधायक हैं और हम अपने दम पर ही राज्यसभा सीटषनिकाल सकते हैं।  सुप्रियो भट्टाचार्य ने यह भी दावा किया कि कुछ और विधायकों के साथ भी हमारी बातचीत चल रही है और निश्चित रूप से उनका भी समर्थन झामुमो उम्मीदवार को मिलेगा।

झामुमो के बयान पर कांग्रेस का पलटवार 

सुप्रियो भट्टाचार्य के याचक वाले बयान पर पलटवार करते हुए कांग्रेस की ओर से कहा गया कि काँग्रेस न तो किसी को आँख दिखा रही है न याचना कर रही है । गठबंधन कभी भी सहमती के आधार पर कामयाब होती है निर्देशों पर नहीं । कांग्रेस प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा कि हमारा गठबंधन चुनाव पूर्व हुआ है।  जनता का जनादेश गठबंधन को मिला था । इसका सम्मान होना चाहिए । गठबंधन की गांठ खोलने वाली बयानबाजी से साथी दलों को बचना चाहिए ।

राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि जहां तक पिछले राज्यसभा चुनाव का सवाल है वो मुख्यमंत्री जी और तत्कालीन काँग्रेस प्रभारी की मौजूदगी में संपन्न बैठक में आपसी सहमति के आधार पर दोनों सीटों उम्मीदवार उतारने का फैसला हुआ था l गुरुजी झारखण्ड के सर्वमान्य नेता हैं इसमें किसी को संशय नहीं होना चाहिए l

कांग्रेस के अंदर भी टिकट के लिए लॉबिंग 

कांग्रेस के अंदर राज्यसभा चुनाव में उम्मीदवारी को लेकर दिल्ली में लॉबिंग जारी है । मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो डॉ. अजय कुमार,  सुबोधकांत सहाय,  फुरकान अंसारी और शाहजादा अनवर के नाम की चर्चा है ।

मीडिया में आयी मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन द्वारा अपनी पत्नी को राज्यसभा चुनाव में उतारने की खबर के बाद कांग्रेस आलाकमान हरकत में आया है । शुक्रवार को दिल्ली में कांग्रेस इंचार्ज अविनाश पांडेय ने प्रदेश कांग्रेस के नेताओं के साथ बैठक की ।  इस बैठक में प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर, सीएलपी लीडर आलमगीर आलम, शहजादा अनवर आदि शामिल थे ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.