कोयले की सप्लाइ को लेकर रेलवे ने रद्द किया 1100 ट्रेनों का परिचालन

नई दिल्ली: देश के कई थर्मल पावर प्लांट में कोयले की कमी बरकरार है. इसी बीच रेलवे की ओर से कोयला पहुँचने का काम युद्ध स्तर पर जारी है. कोयले के परिवहन को लेकर कई ट्रेन अबतक रद्दकी जा चुकी है. हालांकि माल गाड़ियों के निर्बाध रूप से आवागमन सुनिश्चित करने को लेकर जहां रेलवे की ओर से कई यात्री गाड़ियों का परिचालन बंद गया किया था वहां इस कड़ी में अब और भी गाड़ियां शामिल हो गई है. रेलवे ने एक बार फिर 1100 यात्री ट्रेनों को कैंसिल किया है. इन ट्रेनों में मेल एक्स्प्रेस और पैसेंजर ट्रेन शामिल है.

बताया जा रहा है कि इन गाड़ियों को इसलिए रद्द किया गया है, ताकि थर्मल पावर प्लांट को सप्लाई किए जा रहे कोयले से लदी मालगाड़ियों को आसानी से रास्ता दिया जा सके, जिससे कोयला समय पर पहुंच सके. कोयले संकट पर केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने पिछले दिनों जानकारी दी थी कि थर्मल पावर प्लांट्स में 21 मिलियन टन कोयले का स्टॉक है जो आने वाले कई दिनों के लिए पर्याप्त है. वहीं, कोल इंडिया को मिलाकर भारत के पास फिलहाल 80 दिनों का स्टॉक मौजूद है.

केन्द्रीय सरकार का कहना है कि मौजूदा समय में रूस और यूक्रेन के बीच जारी युद्ध के कारण कोयले की आयात पर असर पड़ा है. इसके अलावा बताया जा रहा है कि झारखंड में कोयला कंपनियों का पेमेंट बकाया रहना भी कोयला की आपूर्ति बाधित होने का एक कारण है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Verified by MonsterInsights