रघुवर दास ने हेमंत-बसंत सोरेन पर लगाए आरोप, झामुमो ने कहा- रघुवर को धरातल पर लाया जाएगा

रांची में प्रेस को संबोधित करे पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास
रांची में प्रेस को संबोधित करे पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवर दास ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और उनके भाई बसंत सोरेन पर बड़ा आरोप लगाया है। गुरुवार को मीडिया के सामने कई दस्तावेज पेश करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री ने पद पर रहते हुए अपने नाम पर रांची के अनगड़ा मौजा, थाना नं-26, खाता नं-187, प्लॉट नं- 482 में अपने नाम से पत्थर खनन पट्टा की स्वीकृति ली है।

रघुवर दास ने कहा है कि खनन पट्टा की स्वीकृति के लिए हेमंत सोरेन 2008 से ही प्रयासरत थे। मुख्यमंत्री बनने के बाद पत्रांक 615/एम, दिनांक 16-06-2021 द्वारा पत्थर खनन पट्टा की स्वीकृति के लिए सैद्धांतिक सहमति के आशय का पत्र (एलओआई) विभाग ने जारी कर दिया।

जिला खनन कार्यालय ने खनन योजना की स्वीकृति दी और उसके बाद सीएम हेमंत सोरेन ने दिनांक 09-09-2021 को एसईआईएए को आवेदन भेजा। स्टेट लेबल इंवायरमेंट इंपेक्ट असेसमेंट ऑथोरिटी (एसईआईएए) द्वारा दिनांक 14-18 सितम्बर 2021 को सम्पन्न 90वीं बैठक में पर्यावरण स्वीकृति की अनुशंसा की गई।

रघुवर दास ने इससे संबंधित दस्तावेज भी मीडिया को सौंपा। उन्होंने कहा कि पूरे मामले में भाजपा का प्रतिनिधिमंडल जल्द ही राज्यपाल से मिलेगा। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि बसंत सोरेन भी खनन कंपनी ग्रैंड माइनिंग में पार्टनर है। उस कंपनी पर सरकार के आठ करोड़ बकाया है।

ऐसे में दोनों ने सरकार से दोहरा लाभ लिया है। दोनों की विधानसभा सदस्यता खत्म होनी चाहिए। रघुवर दास ने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा यह कार्य गृह मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा जारी मंत्रियों के लिए आचार संहिता का उल्लंघन है। साथ ही भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम, 1988 की धारा 13(1)(डी) के तहत आपराधिक कृत्य है।

रघुवर को धरातल पर लाया जाएगा : सुप्रियो 

झारखंड मुक्ति मोर्चा के केंद्रीय सदस्य और वरिष्ठ नेता सुप्रियो भट्टाचार्य ने रघुवर दास पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि वह दूसरी दुनिया में हैं। उन्हें बहुत जल्द धरातल पर लाया जाएगा। हेमंत सरकार रघुवर के कार्यकाल में सभी कार्य और निर्णयों की तथ्यपरक समीक्षा कराकर पर्दाफाश करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.