पार्श्वनाथ पंचकल्याणक महोत्सव के तीसरे दिन भगवान का जन्मोत्सव मनाया गया

 

 

मधुबन(गिरिडीह)

शाश्वत तीर्थराज सम्मेदशिखर की पावनधरा मे जैनाचार्य विशुद्ध सागर महाराज ससंध के सानिध्य मे चल रहे श्री दिगम्बर जैन मध्यलोक शोध संस्थान मे पांच दिवसीय पार्श्वनाथ पंचकल्याणक महोत्सव के तीसरे दिन पर भगवान का जन्मोत्सव बडे ही हर्षोउल्लास एवम पूरे धूमधाम के साथ मनाया गया।

इस जन्मोत्सव पर श्री दिगम्बर जैन मध्यलोक शोध संस्थान के प्रागंण से एक विशाल शोभा यात्रा पूरे गाजे-बाजा,धोडा गाडी,इन्द्र ध्वज,बैण्ड,नृत्यकला प्रदर्शन आदि अनेकों प्रकार के लोग सामिल हुए। जो पूरे नगर भ्रमण कर विभिन्न मंदिरो का दर्शन कर सीधे श्री शांतिधाम परिसर पर आकर मंदिरजी का दर्शन कर पुःन वापसी श्री दिगम्बर जैन मध्यलोक परिसर पर बना रंग मंडप मे समापन किया गया।

गौरतलब हो की पंचकल्याणक महोत्सव 14 नवम्बर से प्रारंभ हुआ और महोत्सव का समापन पंचकल्याणक महोत्सव के साथ 18 नवम्बर को किया जाएगा। पार्श्वनाथ की प्रतिमाजी व मंदिर का पंचकल्याणक आर्या भक्ति भुषण माताजी की प्रेरणा से बन रहा मंदिर मे किया जाएगा।मंदिर लेम्न्चु भवन व तारण-तरण भवन के बीच मे बना मंदिर मे विराजमान व मंदिरजी का प्रतिष्ठा कराया जाएगा।

प्रभुजी की शोभायात्रा मे हजारों श्रावक उपस्थित थे।जिसमे मुख्य रूप से सतेन्द्र जैन,बिनोद जैन,मनोज जैन,प्रेमचंद जैन,अतुल जैन,त्रषभ जैन,सुधीर जैन,मुक्ता जैन,अभियान जैन,राजु जैन,रवि जैन,अमित जैन,मणीष जैन,बीएन चौगले, मनोज कुमार जैन,अर्पित जैन,देवेन्द्र जैन,बबलु जैन,संतोष जैन,आदि लोग उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com