परिजनों के जरिए अवैध कमाई में शामिल हैं पलामू डीसी शशिरंजन: दीपक प्रकाश

अंजना चौरसिया कौन हैं ? पलामू डीसी बताएं: दीपक प्रकाश
अंजना चौरसिया कौन हैं ? पलामू डीसी बताएं: दीपक प्रकाश

रांची।  भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवम सांसद दीपक प्रकाश ने बड़ आरोप लगाते हुए कहा कि पलामू के उपायुक्त शशिरंजन खुद भ्रष्टाचार में शामिल हैं। उन्होंने कहा कि पलामू के उपायुक्त ने अपने पद का दुरुपयोग करते हुए अपने संबंधियों को खनन पट्टे स्वीकृत किये । दीपक प्रकाश भाजपा मुख्यालय में संवाददाताओ को संबोधित कर रहे थे ।

उन्होने कहा कि उपायुक्त बताएं कि ये मेसर्स जय माँ विंध्यवासिनी स्टोन फर्म के नाम पर पलामू जिला के मौजा शाहपुर,थाना नौडीहा बाजार,थाना संख्या 380 खाता संख्या 72 प्लाट नंबर 295,297,299,300,302,304 एवं 306,कुल रकबा 4.17एकड़ में पत्थर खनन,क्रशर प्लांट,स्टोन चिप्स एवम डस्ट केलिये जो लीज आवंटित की गई है, उसमे श्रीमती अंजना चौरसिया, पति- श्री अजय कुमार, नमक गोला, जय मुहल्ला ,जिला बक्सर (बिहार)कौन है? और मेसर्स प्राइम स्टोन से जुड़ी श्रीमती स्नेहा कुमारी बड़ी दरियापुर,जिला मुंगेर की कौन है?

दीपक प्रकाश ने कहा कि राज्य के सिर्फ मुख्यमंत्री ने ही अपने और अपनों को लीज आवंटित नही किये बल्कि राज्य के पदाधिकारी भी मुख्यमंत्री का अनुसरण करने में पीछे नही रहे। मुख्यमंत्री ने स्वयं लूटा भी और लूटने की छूट भी दी।

दीपक प्रकाश ने जेएसएमडीसी में कार्यरत अनुबंध कर्मी अशोक कुमार के मामले भी उजागर किये। उन्होंने कहा अशोक कुमार गढ़वा जिला में खनिज निगम का प्रोजेक्ट अधिकारी है ,जिसने गढ़वा के चिनिया प्रखंड में अपनी पत्नी विद्या शर्मा के नाम 8.47एकड़ में खान आवंटित करा लिया। दीपक प्रकाश ने कहा कि एक तरफ जनता के खून पसीने की कमाई लूटी जा रही दूसरी ओर नागरिक सुविधाओं के टैक्स बेहिसाब बढ़ाये जा रहे। नगर विकास सचिव द्वारा होल्डिंग टैक्स 10 फीसदी बढ़ाया जाना तुगलकी फरमान है जिसका भाजपा सड़क पर उतरकर विरोध करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.