कबाड़ी मकलू शेख की गिरफ्तारी से 95 करोड़ का स्क्रेप चोरी खपाने का हो सकता है खुलासा

95 करोड़ रुपये के स्क्रैप चोरी की अहम कड़ी है मकलू शेख
95 करोड़ रुपये के स्क्रैप चोरी की अहम कड़ी है मकलू शेख
कार्तिक कुमार/ उज्ज्वल दुनिया संवाददाता 
पाकुड़: बंद कोल ब्लॉक के मिक्सिंग प्लांट में लोहे की मशीन को कटिंग करने के दौरान दबोचे गये तीन अपराधियों के कन्फेशनल बयान में पाकुड़ के कबाड़ी मकलू शेख की गिरफ्तारी से 95 करोड़ का स्क्रेप चोरी का दर्ज मामले का पर्दाफाश हो सकता है. पचुवाड़ा सेंट्रल कोल ब्लॉक का छह साल बंद के दौरान प्रबन्धन ने माइंस से 95 करोड़ के स्क्रैैप का आरोप लगाते हुए अमड़ापाड़ा थाना में दिसम्बर 2020 में दर्ज कराया था. हालाँकि पुलिस को अब तक दर्ज चोरी के मामलें में एक भी आदमी हाथ नहीं लग पाया है.
शनिवार को पाकुड़ के स्क्रेप चोर गुलाम मुस्तफा ने अपने गिरफ्तारी के दौरान पुलिस के समक्ष स्वीकारा है की लोहा चोरी का काम कई वर्षों से करता आ रहा है. चोरी की गई लोहे को गुलाम ने पाकुड़ के कबाड़ी मकलू शेख के पास बेचने की बात कही है. साथ ही गुलाम ने स्वीकारा है की कबाड़ी मुकलू ने ही अमड़ापाड़ा जा कर प्रदीप नाम व्यक्ति से मिलकर घटना को अंजाम देने का बात स्वीकारा है. अब पुलिस की कार्रवाई स्क्रेप चोरी का पर्दाफाश करने में किस गति से एक्शन मुड़ में आती है.
बंद माइंस से 95 करोड़ स्क्रेप चोरी का कनेक्शन का तार कही ना कही मुकलू, प्रदीप और गुलाम मुस्तफा को जुड़ गया है. हालाँकि इस मामलें  एसडीपीओ नवनीत हेम्ब्रम ने कहा है की धराये गये अपराधियों द्वारा अपने स्वीकारती व्यान में जिनका नाम बताया है उन पर कानून का गाज गिरना तय है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *