खुलेआम हो रही भारत-न्यूज़ीलैंड मैच के टिकटों की कालाबाजारी, प्रशासन का भी मौन सहयोग

बिहार और झारखंड के लगभग सभी हिस्सों से लोग आ रहे हैं टिकट खरीदने
बिहार और झारखंड के लगभग सभी हिस्सों से लोग आ रहे हैं टिकट खरीदने

अगर आप रांची में होनेवाले भारत और न्यूजीलैंड के बीच मुकाबला स्टेडियम में बैठकर देखना चाहते हैं तो आपको गहरी मायूसी हाथ लगेगी । प्रशासन की नाक के नीचे दोगुना-तिगुना दाम पर टिकट ब्लैक किए जा रहे हैं।  स्टेडियम के आसपास मैच टिकट ब्लैक करने वालों का मजमा लगा है। पुलिस सब जानती है, लेकिन कर कुछ नहीं रही ।

900 रुपये का टिकट 1800 रुपये में ब्लैक बेच रहे हैं 

आपको टिकट फोन पर घर भी पहुंचा देंगे,  लेकिन उसके लिए एक्स्ट्रा चार्ज देना होगा । अगर स्टेडियम के पास आकर ब्लैक में टिकट खरीदना चाहते हैं तो 900 रुपये का टिकट 1800 रुपये में मिल रहा है। ये मंगलवार शाम तक का रेट है, डिमांड के हिसाब से टिकटों के दाम बढ़ घट सकते हैं।

टिकट ब्लैक करने वालों को JSCA का पूरा सहयोग 

टिकट ब्लैक करने वाले रात डेढ़ से दो बजे के बीच ही लाइन में लग जाते हैं। जैसे ही टिकट काउंटर खुलता है, टिकट काटने वाले जानबूझकर धीरे-धीरे टिकट देते हैं। एक-एक इंसान को टिकट देने में आधे घंटे लग जा रहे हैं। कुल मिलाकर तीन काउंटर से उतना ही टिकट काटे जा रहे हैं, जिनमें दलालों का काम चलता रहे ।

“झारखंड है तो भ्रष्टाचार तो होगा ही”

ये बयान एक टिकट बेचने वाले दलाल का है। उसने उज्ज्वल दुनिया संवाददाता को बताया कि वीआईपी पास, पैरवी और ब्लैक वालों से ही आधा स्टेडियम भर जाएगा। कम से कम 40% टिकट गलत तरीके से खपाया जा रहा है। वो हंसते हुए कहता है कि क्रिकेट देखना जीने के लिए जरुरी तो नहीं।  जब शौक ही पूरा करना है तो शौक का कोई दाम नहीं होता। वो सामने वाले की जेब से तय होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com