राजधानी में देर रात हाइवोल्टेज ड्रामा, प्रेम प्रकाश के पकड़े जाने की खबर, सीआरपीएफ जवानों से भरी बस अपार्टमेंट के सामने रुकी

प्रेम प्रकाश के ठिकाने के बाहर खड़ीसीआरपीएफ जवानों से भरी बस
प्रेम प्रकाश के ठिकाने के बाहर खड़ी सीआरपीएफ जवानों से भरी बस

प्रेम प्रकाश की गिरफ्तारी से हड़कंप, ट्रांसफर-पोस्टिंग और अवैध खनन के पैसों को खपाने में था माहिर

रांची। बुधवार को ईडी ने राज्य के प्रभावी नेताओं और नौकरशाहों के करीबी रहे प्रेम प्रकाश के आधा दर्जन ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की। देर रात ईडी ने प्रेम प्रकाश को हिरासत में भी ले लिया, जिसकी निशानदेही पर छापेमारी जारी रही।

प्रेम प्रकाश की फाइल तस्वीर
प्रेम प्रकाश की फाइल तस्वीर

ईडी ने प्रेम प्रकाश के रांची में तीन, बिहार के पटना व सासाराम व उत्तर प्रदेश के बनारस में छापेमारी की है। रांची में अरगोड़ा चौक स्थित वसुंधरा अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर 802, अशोक नगर में फिरायालाल नेक्सट के समीप स्थित कार्यालय व हरमू हाउसिंग कालोनी स्थित आवास में ईडी की छापेमारी देर रात तक जारी रही। अरगोड़ा चौक के समीप स्थित वसुंधरा अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर 802 में ताला लगा हुआ था, जिसे दंडाधिकारी की मौजूदगी में ईडी के अधिकारियों ने ताला तोड़कर तलाशी ली है। यहां से भारी मात्रा में लेन-देन से संबंधित दस्तावेज हाथ लगे हैं।

सोमवार को ईडी ने बिल्डर निशिथ केशरी और कारोबारी विशाल चौधरी के ठिकानों पर छापेमारी की थी। प्रेम प्रकाश काली कमाई खपाने वालों के बीच चर्चित नाम है। ईडी को जानकारी मिली है कि कुछ जिला खनन पदाधिकारियों के माध्यम से वह काले धन की हेराफेरी करता था। जिला खनन पदाधिकारियों से पूछताछ में मिले इनपुट के बाद ईडी ने प्रेम प्रकाश के ठिकाने पर दस्तक दी। प्रेम प्रकाश रांची के अरगोड़ा बाईपास रोड में स्थित वसुंधरा अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर 802 में रहता है, जहां पिछले एक महीने से ताला लटका था।

हरमू हाउसिंग कालोनी में जल बोर्ड कार्यालय के बगल में आइएएस अधिकारी अमित कुमार व के श्रीनिवासन के आवास के पास शैलोदय बिल्डिंग में भी एक फ्लैट किराये पर ले रखा था, जहां ईडी की टीम पहुंची तो प्रेम प्रकाश के कुछ सहयोगी मौजूद मिले। शैलोदय बिल्डिंग में 3के/7 नंबर का यह फ्लैट यूके झा व शैल देवी का है।

आसपास के लोगों का कहना है कि शैलोदय बिल्डिंग अमूमन खाली रहता है। केवल प्रेम प्रकाश के फ्लैट में ही लोगों का आना-जाना था। बुधवार अपराह्न करीब तीन बजे सीआरपीएफ के जवानों के साथ ईडी की टीम यहां पहुंची थी। यहां देर रात तक टीम के अधिकारी फ्लैट की गहन तलाशी ले रहे थे। तलाशी में क्या कुछ मिला, यह स्पष्ट नहीं हो पाया है। केवल इतनी जानकारी मिली है कि भारी लेन-देन व कुछ राजनेताओं व नौकरशाहों के साथ घनिष्ठ संबंध से संबंधित दस्तावेज ईडी के हाथ लगे हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.