गिरिडीह: अपनी पत्नी और बेटी की हत्या की, फिर पुलिस हिरासत से भागने के दौरान आरोपी की ट्रक से कुचलकर मौत

 

पुलिस हिरासत से भागने के दौरान आरोपी की ट्रक से कुचलकर मौत
पुलिस हिरासत से भागने के दौरान आरोपी भूपेश मल्लाह  की ट्रक से कुचलकर मौत

गिरिडीह। पांच अक्टूबर की शाम पीरटांड़ थाना क्षेत्र के बराकर नदी के किनारे फंदे से झूलती हुई एक महिला की लाश मिली थी । पुलिस ने शव को कब्जे में लिया था। दो दिनों बाद मृतका की पहचान पचंबा थाना इलाके परसाटांड़ निवासी भूपेश मल्लाह की पत्नी खुशबू देवी के रूप में की गयी । इसके बाद एसडीपीओ मनोज कुमार और इंस्पेक्टर आदिकांत महतो के निर्देश पर थाना प्रभारी पवन सिंह ने जांच शुरू किया।

जांच शुरू हुई तो यह साफ होने लगा कि महिला की हत्या की गई है । इसके बाद परसाटांड़ से दो युवकों को पूछताछ के लिए थाना लाया गया । दोनों से पूछताछ हुई तो शक मृतका के पति भूपेश मल्लाह पर गया । भूपेश को थाने लाया गया ।

घटना को लेकर भूपेश से पूछताछ की गई तो उसने हत्या की बात कबूल किया । पुलिस को यह बताया कि पत्नी से हो रहे झगड़ा के कारण वह तनाव में था, वही भूपेश ने कहा कि पत्नी की सामने बेटी का गला घोंटकर उसे मौत की नींद सुला दिया । उसके बाद भूपेश ने अपनी पत्नी की भी गला दबाकर हत्या कर दी । वहीं लाश को बराकर जंगल में फंदे पर लटका दिया । जबकि बेटी की लाश को नदी के किनारे फेक दिया ।

पत्नी की हत्या के आरोप में हिरासत में लिये गये एक व्यक्ति भागने के दौरान ट्रक से कुचलकर मौत हो गयी। गिरिडीह- डुमरी मुख्य पथ पर बराकर पुल से आगे घटी थी। मृतक पचंबा थाना क्षेत्र के परसाटांड़ निवासी भूपेश मल्लाह था। पुलिस ने ट्रक जेएच02एडी 8380 को कब्जे में लेकर अनुसंधान में जुट गई। वहीं शव का पंचनामा बना अंत्यपरीक्षण के लिए भेज दिया है। महिला पचम्बा थाना क्षेत्र के परसा बेड़ा गांव निवासी भूपेश मलाह की पत्नी खुशबू देवी थी। पांच अक्टूबर को अपने मायके दुग्दा जाने के लिए निकली थी। भूपेश की मौत के साथ यह हत्याकांड पूरी तरह से नहीं सुलझ सका । भूपेश की बेटी की लाश भी नहीं मिल सकी । यह भी पूरी तरह से साफ नहीं हो सका कि इस हत्या में सिर्फ भूपेश ही शामिल था या कोई अन्य भी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com