कोडरमा: मजदूर की मौत के बाद जबरन हटाया गया शव

मजदूरों ने कोडरमा थर्मल पावर प्लांट का काम किया ठप
मजदूरों ने कोडरमा थर्मल पावर प्लांट का काम किया ठप

कोडरमा जिले के बांझेडीह स्थित कोडरमा थर्मल पावर प्लांट में एक मजदूर की मौत के बाद मुआवजे की मांग को लेकर बैठे प्रदर्शनकारियों पर कार्यवायी और शव को जबरन हटवाने के बाद राजनीति गरमा गयी है ।

गुरुवार को प्लांट के सभी मजदूरों ने काम का बहिष्कार कर गेट जाम कर दिया । जिसके बाद वे धरना पर बैठ गये ।

ज्ञात हो कि 13 दिसंबर को बांझेड़ीह पावर प्लांट में कार्यरत साईट इंचार्ज कैलेंदर सिंह प्लांट में 20 फीट ऊंचाई पर काम कर रहे थे । इसी दौरान वे गिर गये । डीवीसी परिसर में हॉस्पिटल उपलब्ध नहीं होने के कारण उसे इलाज के लिए सदर अस्पताल और फिर रांची ले जाया गया, जहां रास्ते में ही उसकी मौत हो गयी ।

साईड इंचार्ज कैलेंदर सिंह के शव को पुलिस प्रशासन के बल पर मृतक के घर बिना मुआवजा दिलाये पहुंचा दिया गया । प्लांट के वर्करों को पता चला कि कलेंदर सिंह की मृत्यु हो गई है और शव को उसके घर पहुंचा दिया गया है तो वर्करों में आक्रोश हो गया और अपनी कंपनी के सारे वर्कर गेट के बाहर आ गए और डीवीसी गेट को जाम कर दिया । वे 20 लाख रुपया मुआवजा और परिजन को नौकरी की मांग कर रहे थे ।

इधर बुधवार देर शाम स्थानीय नेत्री सोनिया देवी के प्रयास से पतरातू से शव को पुनः डीवीसी प्लांट लाया गया । उसके परिजन तथा यहां के नेता गन और मजदूर साथी उनके समर्थन में जगे रहे थे । करीब 12:30 बजे नेतागण को घर चले जाने के बाद कम संख्या देखकर थाना प्रभारी अब्दुल्लाह खान ने पुलिस बल के साथ शव को उठवा लिया और तिलैया थाना को सौंप दिया ।

तिलैया थाना की तरफ से शव को बरही थाना में सौंप दिया गया । आरोप है कि इस दौरान उसके परिजन के साथ मारपीट भी हुई
जब इसकी जानकारी नेताओं और मजदूर साथियों को हुई तो वर्करों में आक्रोश पैदा हो गया और काम छोड़कर मृतक मजदूर के परिवार के समर्थन में गेट जाम कर दिया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *