ऑटो के धक्के से ही हुई थी जस्टिस उत्तम आनंद की मौत, साजिश या हत्या के नहीं मिले सबूत- CBI

जस्टिस उत्तम आनंद को ऑटो से धक्का लगना कोई साजिश नहीं बल्कि हादसा थी
जस्टिस उत्तम आनंद को ऑटो से धक्का लगना कोई साजिश नहीं बल्कि हादसा थी

धनबाद: जस्टिस उत्तम आनंद की मौत कोई हत्या या साज़िश नहीं बल्कि हादसा थी । सीबीआई ने शुक्रवार को हाईकोर्ट में जो प्रगति रिपोर्ट सौंपी है, उसके अनुसार तो ये हादसा ही था ।सीबीआई की ओर से बताया गया कि जज की मौत ऑटो के धक्के से ही हुई है।

हवाई जहाज से लायें नार्को टेस्ट की रिपोर्ट 

इस पर चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन और जस्टिस सुजीत नारायण प्रसाद की अदालत ने कहा कि आरोपियों के नार्को टेस्ट की रिपोर्ट और उन दोनों को एरोप्लेन से ही लाया जाय, क्योंकि ट्रेन में दोनों आरोपियों की जान को खतरा हो सकता है और नार्को टेस्ट रिपोर्ट से छेड़छाड़ हो सकती है।

आरोपियों को पूरी सुरक्षा दी जाय- हाईकोर्ट
आरोपियों को पूरी सुरक्षा दी जाय- हाईकोर्ट

झारखंड के FSL में सभी जरूरी उपकरण के लिए टेंडर जारी किया गया- गृह सचिव

मामले की सुनवाई के दौरान राज्य के गृह सचिव और एफएसएल निदेशक भी हाजिर थे। गृह सचिव ने अदालत को बताया कि एफएसएल में जरूरी आधारभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए टेंडर जारी कर दिया गया है। अब किसी भी प्रकार की जांच के लिए सैंपल दूसरे राज्य भेजने की जरूरत नहीं होगी। एफएसएल निदेशक से हाईकोर्ट ने कहा कि जब राज्य में एक ही लैब है तो इसमें सभी तरह की जांच की सुविधा होना जरूरी है। कोर्ट ने निदेशक को अगली तिथि को यह बताने को कहा कि लैब में कितने पद रिक्त हैं और क्या-क्या नई जांच की सुविधा की जरूरत है। इस पर विस्तृत रिपोर्ट के साथ अदालत ने गृह सचिव और निदेशक को अगली तिथि को भी कोर्ट में हाजिर होने का निर्देश दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com