नक्सली और आपराधिक संगठनों के निशाने पर था केदार

एक साथ दोनों नक्सली संगठनों को झांसा दे रहा था केदार
एक साथ दोनों नक्सली संगठनों को झांसा दे रहा था केदार

एक दशक से माओवादी और फिर टीपीसी संगठन से जोड़ रखा था तार
………………………………….
दोनों संगठनों को देता रहा झांसा, उसके गोरखधंधे का हो चुका था खुलासा
………………………………….
उज्जवल दुनिया संवाददाता/ अजय निराला

हजारीबाग। जिले के केरेडारी में अपराधियों की गोलियों का शिकार हुआ मृतक केदार ठाकुर वर्ष 2001-02 से प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के लिए काम करता था। वह हजारीबाग जिले के केरेडारी, बड़कागांव और उरीमारी थाना क्षेत्र के अलावा चतरा जिले के टंडवा व पिपरवार थाना क्षेत्र, रामगढ़ जिले के भुरकुंडा व पतरातू क्षेत्र और रांची जिले के बुढ़मू थाना क्षेत्र में अपनी गहरी पैठ बना ली थी।

वर्ष 2008-09 से बुंडू, पताल, पिपरवार व बुढ़मू क्षेत्र में प्रतिबंधित नक्सली संगठन टीपीसी का वर्चस्व बढ़ने लगा, तो उसने टीपीसी संगठन के साथ अपना तार जोड़ लिया। बीच-बीच में भाकपा माओवादियों की उपस्थिति से केदार ठाकुर भयभीत रहने लगा था। इसी बीच आपराधिक गिरोह चलाने वाले कुख्यात गैंगस्टर अमन साव के गुर्गों ने वर्ष 2020 में उससे लेवी मांगी थी।

लेवी नहीं देने पर केदार के कोयले के अवैध खदान, गिट्टी पत्थर के क्रशर चलाने पर रोक लगा दी थी। उसके बावजूद अवैध कारोबार संचालित रखने पर 2020 में ही कोयला खदान में काम कर रहे केदार के लोगों पर फायरिंग भी की गई थी। मृतक केदार ठाकुर का आपराधिक रिकार्ड होने के साथ-साथ हजारीबाग जिले के केरेडारी, बड़कागांव, चतरा जिलेके पिपरवार, रांची जिले के बुढ़मू और रामगढ़ जिलेके पतरातू थाना क्षेत्र में कोयला और पत्थरों के अवैध खनन का कार्य चलता था। इसकी देखरेख उसके भाई और करीबी करते थे।

केदार पर प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के नाम पर लेवी का पैसा गबन करने का भी आरोप पिछले कई वर्ष पूर्व लग चुका है। वहीं हाल के वर्षों में नक्सली संगठन टीपीसी के लेवी के पैसे गबन करने का आरोप भी केदार पर लगा था। वहीं दोनों नक्सली संगठनों से तालमेल रखने और संगठन के नाम पर पैसे गबन करने की जानकारी टीपीसी और माओवादी संगठन से जुड़े लोगों को मिल चुकी थी। साथ ही आपराधिक गिरोह अमन साव गैंग के लोगों को फिरौती नहीं देने के कारण अपराधियों के निशाने पर आ गया था। फिलहाल यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि केदार ठाकुर का किस संगठन या आपराधिक गिरोह ने गोली मारकर हत्या की है। इधर पुलिस इस मामले की जांच-पड़ताल गहनता से कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com