संशोधित नियमावली के आधार पर ही होगी JTET

झारखंड में जल्द होगी शिक्षक पात्रता परीक्षा
झारखंड में जल्द होगी शिक्षक पात्रता परीक्षा

रांची। शिक्षा मंत्री की सहमति के बाद इस शिक्षक पात्रता परीक्षा की संशोधित नियमावली को विधि विभाग की मंजूरी के लिए भेज दिया गया है। विधि विभाग की स्वीकृति मिलने पर कार्मिक और फिर कैबिनेट की मंजूरी दिलाई जाएगी। इसके बाद झारखंड एकेडमिक काउंसिल को शिक्षक पात्रता परीक्षा लेने की अधियाचना भेजी जाएगी।

नई नियमावली के आधार पर ही होगी परीक्षा

झारखंड से मैट्रिक और इंटरमीडिएट करने वाले प्रशिक्षित अभ्यर्थी ही शिक्षक पात्रता परीक्षा में बैठ सकेंगे। वहीं, 12 क्षेत्रीय भाषाओं में से किसी एक में क्वालीफाई करने पर ही वे पास कर सकेंगे। भोजपुरी, अंगिका, और मगही को क्षेत्रीय भाषाओं में नहीं रखा गया है। प्रस्ताव में स्पष्ट है कि शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए देश के किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से डीएलएड या बीएड होना अनिवार्य होगा। अभ्यर्थी सूबे के सरकारी या निजी स्कूलों से ही 10 वीं या 12 वीं पास होने चाहिए। ऐसे लोग ही आवेदन कर सकेंगे और परीक्षा में शामिल हो सकेंगे।

भोजपुरी, अंगिका, और मगही को मान्यता नही

लातेहार, पलामू और गढ़वा में सिर्फ नागपुरी को क्षेत्रीय भाषा का दर्जा है। वहीं, दुमका, जामताड़ा, साहिबगंज और पाकुड़ में अंगिका को क्षेत्रीय भाषा का दर्जा नहीं दिया गया है। इन जिलों में खोरठा और बांगला को मान्यता दी गई है। टेट में क्षेत्रीय भाषा से 30 अंक के सवाल पूछे जाएंगे, जिसमें 33 फीसदी अंक लाना होगा। सरकार ने संताली, मुंडारी, हो, खड़िया, कुडुख, कुरमाली, खोरठा, नागपुरी, पंचपरगानिया, उड़िया, बंगला और उर्दू को ही क्षेत्रीय भाषा की मान्यता दी है।

2013 और 2016 में हो चुकी है शिक्षक पात्रता परीक्षा

झारखंड में 2013 और 2016 में ही शिक्षक पात्रता परीक्षा हुई है। 2013 की परीक्षा में 67000 अभ्यर्थी क्वालीफाई किए थे जिसमें से करीब 18,000 की नियुक्ति हो चुकी है, वहीं 2016 टेट में 53,000 अभ्यर्थी पास किए हैं, जिनकी नियुक्ति प्रक्रिया अब तक शुरू नहीं की गई है।
पूर्व में शिक्षक पात्रता परीक्षा के सर्टिफिकेट की मान्यता 5 साल के लिए थी, जिसे बाद में 7 साल और अब केंद्र सरकार ने आजीवन कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com