अनगड़ा खनन पट्टे पर झारखंड हाईकोर्ट का सीएम हेमंत सोरेन को नोटिस

हाईकोर्ट ने जवाब देने के लिए दो हफ्ते का वक्त दिया
हाईकोर्ट ने जवाब देने के लिए दो हफ्ते का वक्त दिया

रांची। रांची से सटे अनगड़ा में पत्थर खदान को अपने नाम पर लीज कराने के मुद्दे पर शिवशंकर शर्मा ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। इसी मामले में झारखंड हाईकोर्ट ने अब सीएम हेमंत सोरेन को नोटिस जारी किया है। माइनिंग लीज मामले में झारखंड हाईकोर्ट ने हेमंत सरकार से जवाब मांगा है। अदालत ने दो सप्ताह के भीतर एफिडेविट दायर कर जवाब देना का निर्देश जारी किया है। इस मामले में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन समेत अन्य कई उच्च पदस्थ लोगों को पार्टी बनाया गया है।

अधिवक्ता को डरने की जरुरत नहीं- हाईकोर्ट

याचिकाकर्ता के अधिवक्ता राजीव कुमार ने अदालत को बताया कि रांची डीसी छवि रंजन ने उन्हें अपने घर पर बुलाकर डराने का प्रयास किया है। इस पर अदालत ने अधिवक्ता से कहा कि उन्हें डरने की जरूरत नहीं है। सुनवाई के दौरान हाई कोर्ट ने खनन विभाग के क्रियाकलाप पर मौखिक टिप्पणी भी की।अदालत ने कहा कि ऐसा लगता है कि खनन विभाग में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है।

पद के दुरुपयोग का आरोप

मुख्य न्यायधीश डॉ रविरंजन एवं न्यायाधीश एस एन प्रसाद की खंडपीठ ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के नाम नोटिस जारी करते हुए पूछा कि आपने अपने पद का दुरुपयोग क्यों किया ? वहीं रांची डीसी द्वारा धमकी दिये जाने के मामले में संज्ञान लेते हुए अदालत ने कहा झारखंड उच्च न्यायालय के रहते कोई भी अधिवक्ता असुरक्षित महसूस नहीं करे ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.