कांग्रेस के शीर्ष नेताओं और मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के बीच अहम मुलाकात

कांग्रेस ने अपने लिए राज्यसभा सीट की मांग की: सूत्र
कांग्रेस ने अपने लिए राज्यसभा सीट की मांग की: सूत्र

राज्यसभा उम्मीदवार और मौजूदा राजनीतिक घटनाक्रम पर चर्चा

रांची।  झारखंड कांग्रेस के प्रभारी अविनाश पांडेय,  झारखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर और वरिष्ठ नेता आलमगीर आलम ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मुलाकात की ।

आधिकारिक रूप से बताया गया कि कांग्रेस प्रभारी और मुख्यमंत्री के बीच राज्य के विकास को लेकर चर्चा हुई। लेकिन बैठक के बाद बाहर आते हुए झारखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने कहा कि जब भी राजनीतिक व्यक्ति आपस में मिलते हैं तो स्वभाविक है कि राजनीतिक विषयो पर भी बात होती है ।

महागठबंधन सरकार पर कोई खतरा नही: राजेश ठाकुर 

मीडिया से बातचीत करते हुए झारखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने कहा कि झारखंड की महागठबंधन सरकार पर किसी भी प्रकार का कोई खतरा नही है और यह सरकार पूरे पांच साल चलेगी । खान लीज मुद्दे पर भाजपा बेवजह का हौवा खड़ कर रही है । चुनाव आयोग के आनेवाले फैसले पर राजेश ठाकुर ने कहा कि चाहे चुनाव आयोग हो या अन्य एजेंसियां।  इन सब पर केन्द्र सरकार का भारी दबाव है । केंद्र की मोदी सरकार इनका इस्तेमाल विपक्षी दलो की सरकार को डराने और प्रताड़ित करने के लिए कर रही है । हम कानूनी लड़ाई लड़ते रहेंगे ।

राज्यसभा के लिए कपिल सिब्बल के नाम पर चर्चा तक नही 

एक सवाल के जवाब में राजेश ठाकुर ने कहा कि मैंने भी मीडिया में ही देखा- पढ़ा है कि हेमंत सरकार कपिल सिब्बल को राज्यसभा भेज रही है । लेकिन हमारे बीच इसकी चर्चा तक नही है । राज्यसभा उम्मीदवार कौन होगा और किस पार्टी से होगा, ये दोनों दल आपस में मिलबैठ कर तय करेगे । राज्यसभा सीट पर कांग्रेस की दावेदारी पर राजेश ठाकुर ने कहा कि स्वभाविक है कि दोनों दल अपनी-अपनी दावेदारी पेश करेगे,  लेकिन अंत में जो तय होगा उसे गठबंधन की सभी पार्टियों को मान्य होगा ।

भाजपा अपनी पार्टी को देखे, हमारी चिंता न करे

राजेश ठाकुर ने कहा कि भाजपा को कांग्रेस या हेमंत सोरेन की चिंता करने की जरूरत नही है, वो अपनी पार्टी की चिंता करे। उन्होने कहा कि मीडिया में माहौल बनाकर अपनी पीठ थपथपाने से कुछ नही होगा । कांग्रेस में नही बल्कि भाजपा के अंदर ही अलग-अलग गुट हैं ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.