जबतक 1932 आधारित स्थानीय और नियोजन नीति लागू नहीं होती, घर वापस नहीं लौटूंगा- लोबिन हेंब्रम

पाकुड़ मे झारखंड मुक्ति मोर्चा के बोरिया विधायक लोबिन हेंब्रम ने जन आक्रोश रैली निकाला
पाकुड़ मे झारखंड मुक्ति मोर्चा के बोरिया विधायक लोबिन हेंब्रम ने जन आक्रोश रैली निकाला

पाकुड़ ।  5 अप्रैल मंगलवार को पाकुड़ में झारखंड मुक्ति मोर्चा पार्टी के बोरिओ विधानसभा के विधायक लोबिन हेंब्रम ने 1932 खतियान के आधार पर स्थानीय नीति एवं नियोजन नीति,एस पी टी एक्ट, बाहरी भाषाओं को क्षेत्रीय भाषाओं के सूची से बाहर करना आदि मांगों को लेकर एक विशाल रैली किया।

यह रैली पाकुड़ रानी ज्योतिर्मय स्टेडियम से हॉटपाड़ा मुख्य सड़क होते हुए डॉक्टर भीमराव अंबेडकर चौक स्थित बाबा भीमराव अंबेडकर की मूर्ति पर माल्यार्पण करते हुए पुनः हाटपाड़ा मुख्य पथ
-सिद्धू कान्हू पार्क होते हुए लड्डू बाबू आमबागान पहुंचकर कार्यकर्ताओं के साथ सभा किया। इस रैली में काफी संख्या में आदिवासी समुदाय के पुरुष महिला उपस्थित थे।

विधायक लोबिन हेंब्रम ने बताया कि- झारखंड मुक्ति मोर्चा पार्टी ने विधानसभा चुनाव के पूर्व लोगों से वादा किया था- हमारे सरकार बनने पर स्थानीय नीति एवं नियोजन नीति बनाएंगे। पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अभी तक नहीं बनाया।जिसके कारण मैं झारखंड के सभी जगह इस प्रकार रैली तथा सभाओं के माध्यम से स्थानीय नीति एवं नियोजन नीति के बारे में लोगों को जागरूक कर रहा हूं।

जरुरत पड़ तो हर आदिवासी-मूलवासी घर का दरवाजा खटखटाएंगे 

लोबिन हेंब्रम ने कहा कि हेमंत सोरेन हो या कोई और, आदिवासी-मूलवासी हितों के लिए हमे जनजागरण चलाना ही होगा । उन्होंने कहा कि जरुरत पड़ तो हर गांव-हर घर के दरवाजे पर पहुंचेंगे।  लेकिन स्थानीय और नियोजन नीति लेकर रहेंगे।  सरकार द्वारा अप्रैल माह के अंत तक स्थानीय नीति तथा नियोजन नीति लागू नहीं करने पर 5 मई को पूरा झारखंड बंद करने की बात कही।

Leave a Reply

Your email address will not be published.