HP Election 2022: हिमाचल प्रदेश चुनाव से पहले बागी बने बीजेपी की मुसीबत, जेपी नड्डा ने खुद – ABP न्यूज़

By: आईएएनएस | Updated at : 26 Oct 2022 01:37 PM (IST)

(फाइल फोटो)
Himachal Pradesh Election 2022: हिमाचल प्रदेश में इस बार ‘सरकार नहीं, रिवाज बदले’ के नारे के साथ दोबारा जनादेश हासिल करने के लिए विधान सभा के चुनावी मैदान में उतरी बीजेपी (BJP) के लिए अपने ही परेशानी का सबब बन गए है. पार्टी के बगावत करने वाले कई नेताओं की वजह से बीजेपी कुछ सीटों पर संकट का सामना कर रही है.
हालात को लगातार खराब होते देखकर, पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) ने स्वयं ही मोर्चा संभाल लिया है. दरसअल, हिमाचल प्रदेश जेपी नड्डा का गृह राज्य है और इसलिए इस पहाड़ी राज्य में सीधे-सीधे बीजेपी आलाकमान की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है. यही वजह है कि बागियों को समझाने और मनाने के लिए नड्डा को स्वयं मैदान में उतरना पड़ा.
बागियों को मनाने के लिए जेपी नड्डा ने संभाला मोर्चा
बताया जा रहा है कि नड्डा, पार्टी और पार्टी उम्मीदवारों के खिलाफ बगावत का झंडा बुलंद करने वाले नेताओं को स्वयं मना रहे हैं. जहां उन्हें लग रहा है कि किसी सिटिंग विधायक का टिकट काटने में गलती हुई, वहां पार्टी ने तुरंत अपना उम्मीदवार बदल दिया और जहां उन्हें लग रहा है कि पार्टी का फैसला बिल्कुल सही है वहां वह बागियों से सख्ती से भी निपट रहे हैं.

News Reels
पार्टी ने उम्मीदवारों की पहली लिस्ट में चंबा के सिटिंग विधायक पवन नय्यर का टिकट काटकर इंदिरा कपूर को चंबा से उम्मीदवार बनाया था लेकिन बाद में स्थानीय स्तर पर कार्यकर्ताओं के भारी विरोध के बाद दो दिनों के अंदर ही उम्मीदवार बदल कर पवन नय्यर की पत्नी नीलम नय्यर को चंबा से उम्मीदवार घोषित कर दिया गया.
पार्टी के वरिष्ठ नेता महेश्वर सिंह को कुल्लू सीट से चुनावी मैदान में उतारा गया था लेकिन उनके बेटे हितेश्वर सिंह ने बगावत का झंडा बुलंद करते हुए बंजारा सीट से निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया. नड्डा ने बाप-बेटे दोनों का मनाने की कोशिश की लेकिन जब वो नहीं माने तो सख्त रवैया दिखाते हुए उन्होंने पिता का भी टिकट काट दिया. अब बीजेपी ने कुल्लू सीट से महेश्वर सिंह का टिकट काटकर नरोत्तम ठाकुर को उम्मीदवार घोषित कर दिया है.
जेपी नड्डा ने टिकट न मिलने से नाराज जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह की बेटी वंदना गुलेरिया और रविटा भारद्वाज से स्वयं मुलाकात कर उनकी नाराजगी को दूर किया. कई अन्य नेताओं को भी मनाने का प्रयास लगातार जारी है.
कांग्रेस से बीजेपी की सीधी टक्कर
इसके साथ ही बीजेपी अध्यक्ष लगातार कांग्रेस में भी सेंध लगाने का प्रयास कर रहे हैं. दरअसल, हिमाचल प्रदेश में आम आदमी पार्टी की एंट्री के बावजूद फिलहाल बीजेपी यह मान कर चल रही है कि उनका मुख्य मुकाबला कांग्रेस से ही होगा. इस हालात में कई सीटों पर जीत-हार का अंतर बहुत कम रहने वाला है और इसलिए बीजेपी किसी भी मोर्चे पर कोई कोर-कसर नहीं छोड़ना चाहती है. 
ये भी पढ़ें- HP Election 2022: हिमाचल में बागियों के संकट से बीजेपी और कांग्रेस परेशान, इन नेताओं ने किया निर्दलीय नामांकन
Gujarat Election 2022: गुजरात की द्वारका सीट से BJP का यह उम्मीदवार पिछले 32 साल में नहीं हारा एक भी चुनाव
MCD Election 2022: अरविंद केजरीवाल के घर पर हमला करने वाले शख्स को बीजेपी ने एमसीडी में टिकट दिया
MP: ‘घर वापसी के संकेत हैं’, ज्योतिरादित्य सिंधिया ने राहुल गांधी की यात्रा पर ऐसा क्या कहा कि कांग्रेस ने दिया ये बयान
Gujarat Opinion Poll: सौराष्ट्र-कच्छ और दक्षिण गुजरात, इन दो क्षेत्रों में AAP जीत रही इतनी सीटें, सर्वे का नतीजा चौंकाने वाला
Amazon ने भारत में अपनी Online Learning Academy को किया बंद, जानें फीस रिफंड होगी या नहीं?
BJP ने अरविंद केजरीवाल को मारने की साजिश रची है, मनोज तिवारी हैं इसमें शामिल- डिप्टी CM सिसोदिया का आरोप
FIFA WC 2022: पुर्तगाल ने घाना को 3-2 से हराया, क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने बनाया बड़ा विश्व रिकॉर्ड
Freddy New Teaser: शादी, रोमांस और अत्याचार… फ्रेडी के दूसरे टीजर में और भी ज्यादा खौफनाक दिखे कार्तिक आर्यन
Zakir Naik Controversy: जाकिर नाइक को लेकर कतर ने भारत सरकार से क्या कहा? विदेश मंत्रालय ने बताया
Rajasthan News: राजस्थान में ओबीसी आरक्षण में दिक्कत को दूर करने का फैसला, कैबिनेट ने लिया ये अहम निर्णय

source
– (Ujjwal Duniya)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Verified by MonsterInsights