महिला पुलिसकर्मी के बर्खास्तगी मामले में पटना एसएसपी को हाईकोर्ट का आदेश

अदालत की अवमानना मामले में पटना एसएसपी मुश्किलें बढ़ती दिख रही है. पटना हाई कोर्ट ने 12 मई को अगली सुनवाई के तारीख मुकर्रर की है. जस्टिस पीसी बजंथरी की सिंगल बेंच ने एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लों को हाजिर होने का आदेश किया है. कोर्ट में ये आदेश गौरी रानी नाम की एक महिला सिपाही की बर्खास्तगी के मामले में दिया है.

जानकारी के अनुसार नवंबर, 2018 को पटना के पुलिस लाइन में एक महिला सिपाही की मौत के बाद कुछ महिला सिपाहियों ने परिसर में तोड़फोड़ किया था. इस घटना के बाद कई महिला सिपाहियों को बर्खास्त कर दिया गया था. तब सिपाही गौरी रानी समेत इनमें से कुछ ने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था. महिला सिपाही के वकील अपूर्व हर्ष, मनु मुरारी और प्रशांत भारद्वाज ने बताया कि 18 दिसंबर, 2021 को कोर्ट ने इनकी बर्खास्तगी रद्द करने का आदेश दिया था. साथ ही दो महीने के अंदर बकाया वेतन भुगतान का भी आदेश दिया था.

इस मामले में पहले हुई सुनवाई में अदालत ने साफ तौर पर कहा था कि अगर महिला सिपाही को बकाया वेतन का भुगतान नहीं किया जाएगा तो आज यानी मंगलवार की सुनवाई के दौरान एसएसपी को कोर्ट ‌में पेश होना होगा. मगर एसएसपी नहीं पहुंचे जिस पर कोर्ट ने नाराजगी जाहिर की. हालांकि स्टेट की तरफ से सरकारी वकील ने सुनवाई के दौरान कहा कि बकाया वेतन जारी करने का‌ प्रोसेस हो चुका है, जल्द ही महिला सिपाही को यह मिल जाएगा. मगर हाईकोर्ट ने कहा कि पटना के एसएसपी को फिर भी 12 मई को होने वाली अगली सुनवाई में हाजिर होना होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.