कैबिनेट: धनबाद-साहिबगंज के बीच बनेगा इंडस्ट्रियल कोरिडोर, 50 हजार लोगों को मिलेगा रोजगार

हेमंत कैबिनेट की बैठक में 37 प्रस्तावों पर लगी मुहर
हेमंत कैबिनेट की बैठक में 37 प्रस्तावों पर लगी मुहर

रांची। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के नेतृत्व में कैबिनेट हुई । झारखंड मंत्रालय में हुई कैबिनेट की बैठक में कई अहम फैसले लिए गए । जिसमें 37 अहम प्रस्तावों पर कैबिनेट की मंजूरी दे दी गयी है । इस बैठक में वित्त मंत्री डॉ. रामेश्वर उरांव, ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम सहित कई मंत्री शामिल रहे ।

धनबाद-साहेबगंज के बीच इंडस्ट्रियल कॉरिडोर विकसित

राज्य में धनबाद-साहेबगंज के बीच इंडस्ट्रियल कॉरिडोर विकसित किए जाने की येाजना है । जिससे उम्मीद जताई जा रही है कि इससे 50 हजार से ज्‍यादा लोगों को रोजगार मिलेगा ।

हेमंत सरकार ने धनबाद के गोविंदपुर से साहेबगंज को जोड़ने वाले हाईवे के किनारे 500 एकड़ भूमि में इंडस्ट्रियल कॉरिडोर विकसित करने की योजना बनाई हैं. CM हेमंत सोरेन ने अधिकारियों को सड़क के दोनों ओर जमीन चिह्नित करने के निर्देश जारी कर दिए है. CM ने उद्योग और राजस्‍व एवं भूमि सुधार विभाग के सचिवों से भी उद्योग की संभावना, जमीन की उपलब्‍धता और अन्‍य संसाधनों का अध्‍ययन के आधार पर एक रिपोर्ट तैयार करने के लिए भी कहा है ।

गोविंदपुर से साहिबगंज के बीच फोरलेन एक्सप्रेस वे  

धनबाद के गोविंदपुर से साहेबगंज को जोड़ने वाली रोड की लम्बाई 311 KM है । धनबाद कोयला उत्पादन का हब है । इसके अलावा साहेबगंज में झारखंड का एकमात्र बंदरगाह दो साल पहले ही शुरू किया गया है । ऐसे में इसके नजदीक स्थित इलाकों में औद्योगिक विकास की उच्च संभावनाएं हैं । इस दौरान उद्योगों के लिए कच्‍चा माल से लेकर तैयार माल को लाने और ले जाने मे हाईवे से काफी मदद मिलेगी । फिलहाल ये रोड टू लाइन हैं, लेकिन इसे इसे फोरलाइन बनाया जाएगा । इस सड़क के 50 किलोमीटर के दायरे में इंडस्ट्रियल-इकोनॉमिक कॉरिडोर बनाने की भी योजना है । इस योजनाओं पर काम पूरा होने के बाद 50 हजार से अधिक लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार मिलने की उम्मीद जताई जा रही है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com