जहानाबाद में भारी बवाल, पथराव के बाद फायरिंग, भीड़ में फंसकर महिला हवलदार की मौत

हिंसक भीड़ में फंसकर महिला सिपाही की मौत
हिंसक भीड़ में फंसकर महिला सिपाही की मौत

जहानाबाद । जहानाबाद-अरवल रोड रणक्षेत्र में तब्दील हो गया। परसबिगहा थाना क्षेत्र के नेहालपुर के पास लोगों ने जमकर बवाल किया। उग्र भीड़ ने पुलिस पर हमला बोल दिया। पत्थरबाजी के साथ फायरिंग भी की गई। आखिरकार पुलिस को भागना पड़ा। इस अफरा-तफरी में एक महिला हवलदार भीड़ में फंस गई। वहां से निकलने के दौरान किसी गाड़ी की चपेट में आ गईं, जिससे उनकी मौत हो गई।

महिला हवलदार की मौत
एक कैदी की मौत के बाद लोग इतने गुस्से में थे कि सबकुछ बर्बाद करने पर तुले थे। आखिरकार एक महिला हवलदार की जान चली गई। पत्थर से लेकर गोली तक बरसाए गए। पुलिस ने वहां से पीछे हटना ज्यादा मुनासिब समझा। इस दौरान भीड़ में फंसी एक महिला हवलदार पर गुस्साए लोग पत्‍थर चलाने लगे। भागने के दौरान किसी गाड़ी से दुर्घटना में हवलदार की मौत हो गई। महिला हवलदार खगड़‍िया जिले की रहने वाली थीं। उग्र भीड़ ने पुलिस की गाड़ी को भी पूरी तरह से क्षतिग्रस्‍त कर दिया। घटना से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है। पूरा एरिया छावनी में तब्‍दील कर दिया गया है।

कैदी की मौत से गुस्सा
दरअसल परस बीघा थाने के सरसा गांव के रहनेवाले गोविंद मांझी को शराब मामले में 19 जुलाई को गिरफ्तार किया गया था। उसे औरंगाबाद जिले के दाउदनगर जेल में रखा गया था। वहां शुक्रवार देर रात उसकी मौत हो गई। बताया गया कि गुरुवार को गोविंद की तबीयत खराब होने के बाद दाउदनगर अस्पताल में इलाज चल रहा था। लेकिन शुक्रवार को आधीरात के बाद उसकी तबीयत अचानक बिगड़ने लगी और मौत हो गई। परिजन जब शव लेकर गांव पहुंचे तो रोड को जाम कर दिया। इसके बाद पूरा बवाल जानलेवा साबित हुआ।

पुलिस ने की हवाई फायरिंग
पुलिस जाम को हटाने और लोगों को समझाने-बुझाने में लगी थी। तभी भीड़ ने पत्थरबाजी शुरू कर दी। पुलिसवाले वहां से भागने में अपनी भलाई समझे। मगर हवलदार शांति देवी भीड़ में फंस गईं। महिला पुलिस कर्मी पर भीड़ ने हमला बोल दिया। जान बचाकर भागने के दौरान किसी गाड़ी की चपेट में आ गईं। एसडीपीओ एके पाण्डेय ने मीडिया को बताया कि उग्र भीड़ ने ईंट-पत्‍थर के साथ हथियारों से हमला किया है। भीड़ ने फायरिंग भी की थी, जिसके बाद पुलिस को भी हवाई फायरिंग करनी पड़ी। इस बवाल में हमले में कई पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। एसपी दीपक रंजन के मुताबिक पांच उपद्रवियों को गिरफ्तार किया गया है। वीडियो फुटेज को खंगाला जा रहा है। किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *