टेरर फन्डिंग के आरोपी महेश अग्रवाल को HC से मिली जमानत, NIA करेगी जमानत की शर्त तय

रांची: टेरर फन्डिंग के आरोपी आधुनिक कंपनी के निदेशक महेश अग्रवाल की जमानत याचिका पर हाईकोर्ट में सुनवाई हुई. हाईकोर्ट ने महेश अग्रवाल को ज़मानत की सुविधा प्रदान की है. न्यायाधीश जस्टिस रंगन मुखौपाध्याय और जस्टिस राजेश कुमार की बेंच में महेश अग्रवाल की बेल पिटिशन पर सुनवाई हुई थी. सभी पक्षों की ओर से बहस पूरी होने के बाद अदालत ने इस मामले में अपना फैसला सुरक्षित रख  लिया था. उन्हें एनआईए ने कोलकाता से गिरफ्तार किया था और फिलहाल वे न्यायिक हिरासत में हैं. ज़मानत को मंजूरी मिलने के बाद NIA की विशेष कोर्ट शर्तों को तय करेगी.

बता दें कि मगध आम्रपाली प्रोजेक्ट में लोडिंग और खनन के लिए कार्य कर रही कंपनियों पर प्रतिबंधित उग्रवादी संगठनों को आर्थिक मदद पहुंचाने समेत कई आरोप. मामले में जांच की कमान राष्ट्रीय जांच एजेंसी एनआईए. बीते दिन रांची एनआईए की विशेष अदालत के द्वारा लिए गए संज्ञान को चुनौती देते हुए आरोपी दल ने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था. आरोपियों ने हाईकोर्ट में क्वैशिंग याचिका दाखिल की थी.  इसी मामले के आरोपी को राज्य की शीर्ष अदालत ने जमानत दे दी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.