गुमलाः 2 आदिवासी नाबालिग बहनों से 10 लोगों ने किया रेप

पुलिस जब गिरफ्तारी में जुटी तो डर से 1 आरोपी ने अपनी जान दे दी
पुलिस जब गिरफ्तारी में जुटी तो डर से 1 आरोपी ने अपनी जान दे दी

गुमला । गुमला जिले के बिशुनपुर प्रखंड स्थित गुरदरी थाना क्षेत्र की दो आदिवासी नाबालिगों के साथ दस युवकों ने अपहरण कर सामूहिक दुष्कर्म किया. दोनों लड़कियां नाबालिग हैं और रिश्ते में चचेरी बहनें हैं. घटना शुक्रवार की देर शाम ऊपर लोदा व चापाकोना के समीप घटी. इधर, सूचना पर जब पुलिस हरकत में आयी, तो गिरफ्तारी के डर से एक आरोपी अजीत उरांव ने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली.

मृतक गुरदरी थाना के नीचे लोदा गांव निवासी ढेबला उरांव का पुत्र है. पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. आठ आरोपी अभी भी जंगल में छिपे हुए हैं. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि ग्रामीण गुस्से में हैं. वे रविवार को दिनभर जंगल में आरोपियों को खोजते नजर आये. वहीं गुरदरी थाना प्रभारी अनंत कुमार शर्मा ने बताया कि सामूहिक दुष्कर्म की घटना हुई है.

दोनों नाबालिग बहनें दशहरा मेला देख कर भाई के साथ घर लौट रही थीं, तभी आरोपी युवकों ने भाई को पीटकर भगा दिया और उसके बाद जंगल में ले जाकर दोनों के साथ दुष्कर्म किया. विरोध करने पर आरोपियों ने उनकी पिटाई भी की. इधर, पीड़िता के भाई ने गांव में जाकर परिजनों को घटना की जानकारी दी.

इसके बाद ग्रामीण दोनों पीड़िता की तलाश में जंगल में गये. ग्रामीणों को आता देखकर पीड़िता को छोड़ कर सभी आरोपी भाग गये. इसके बाद ग्रामीणों के साथ पीड़िता गुरदरी थाना पहुंची और प्राथमिकी दर्ज करायी. दोनों पीड़िता की गुमला सदर अस्पताल में मेडिकल जांच करायी गयी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com