नाव हादसे पर बोले बाबूलाल- साहिबगंज के डीसी-एसपी को बर्खास्त करे सरकार

एलसीटी जहाज़ से ट्रकों का रात में भी ग़ैर क़ानूनी परिचालन
एलसीटी जहाज़ से ट्रकों का रात में भी ग़ैर क़ानूनी परिचालन

रांची । साहिबगंज में हुए नाव हादसे पर पूर्व मुख्यमंत्री सह भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने कहा कि झारखंड में हेमंत सरकार के लूट की कहानी सभी जानते हैं। कोयला बालू पथ्थर लोहा जमीन के लूट की लंबी फेहरिस्त है। विधानसभा में बोलते हुए बाबूलाल मरांडी ने कहा कि मनिहारी घाट पर जो दुर्घटना हुई उसकी आशंका 2021 से ही मुझे थी। बार- बार स्थानीय लोग बताते थे कि हेमंत सोरेन के साथ मिल कर कई लोग पत्थर और बालू की लूट में लगे हुए हैं।

बाबूलाल मरांडी ने कहा कि साहेबगंज और मनिहारी के बीच जो घाट है, उसमें जहाजों का जितना वैध परिचालन होता है उससे भी अधिक जहाज अवैध रूप से चलाये जा रहे हैं। सरकार ने सूर्योदय से सूर्यास्त तक ही परिचालन का नियम बनाया था। लेकिन अवैध तरीक़े से रात-रात भर जहाज चल रहे हैं। 13-7-21 को बिहार सरकार और 16-07-21 को झारखंड सरकार को पत्र लिख कर मैने आशंका जताई थी कि कभी भी कोई दुर्घटना हो सकती है। लेकिन किसी ने भी मेरी बात पर धयान नही दिया।

उन्होंने कहा कि सरकार इस बड़ी घटना पर भी पर्दा डालने का काम कर रही है। जब विपक्ष ने सवाल उठाया तो सरकार ने चलते सत्र में ही जवाब देने की बात कही। सरकार ने एक टीम बना कर घटना की जांच की बात कही। लेकिन टीम में सभी सरकार के ही लोग है। पहले तो सरकार वहां काम कर रही कंपनी को ब्लैक लिस्ट करे, लाइसेंस रद्द करे और हत्या का मामला दर्ज करवाये। वहां के उपायुक्त और पुलिस अधीक्षक को निलंबित करे और पूरे मामले की जांच सीबीआई से करवाये।

उन्होंने कहा कि यदि सरकार की संलिप्तता इस घटना में नही है तो मामले की जांच सीबीआई से करवाये।  बाबूलाल मरांडी ने कहा कि राज्य के राजस्व का एक बड़ा हिस्सा मुख्यमंत्री के तिजोरी तक पहुंचता है। यदि ऐसा नही है तो सरकार सीबीआई जांच करवाये। लोबिन हेम्ब्रम के बयान पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए बाबूलाल मरांडी ने कहा कि वैसे लोग जो झारखंड से जुड़े है उन्हें मुख्यमंत्री के बयान पर दर्द है। यदि हमारी पार्टी से सहयोग मांगेंगे तो पार्टी सहयोग करेगी

Leave a Reply

Your email address will not be published.