गोईलकेराः भाजपा के पूर्व विधायक गुरुचरण नायक पर जानलेवा हमला, दो बॉडीगार्ड मारे गये

चारों तरफ हो रही गोलीबारी के बीच किसी तरह बच निकले पूर्व विधायक गुरुचरण नायक
गोलीबारी के बीच किसी तरह बच निकले पूर्व विधायक गुरुचरण नायक

पश्चिमी सिंहभूम जिला मुख्यालय चाईबासा से 60 किमी दूर गोईलकेरा थाना क्षेत्र के झीलरुआं में मंगलवार शाम हुए नक्सली हमले में भाजपा के पूर्व विधायक गुरुणचरण नायक बाल-बाल बच गये, पर उनके दो बॉडीगार्ड शहीद हो गये। शहीदों में शंकर नायक व ठाकुर हेम्ब्रम शामिल हैं। एक बॉडीगार्ड जो घटना में पूर्व विधायक के साथ बच निकला, वह घाटशिला निवासी राम कुमार टुडू है।

गोइलकेरा थाना स्थित झीलरूवां गांव में एक फुटबाल मैच होना था। इस मैच के उद्घाटन के लिए बतौर मुख्य अतिथि मनोहरपुर के पूर्व भाजपा विधायक गुरुचरण नायक अपने सुरक्षाकर्मियों के साथ पहुंचे थे। अभी उन्होंने उद्घाटन किया ही था कि नक्सलियों ने धावा बोल दिया।

पूर्व विधायक के दोनों बॉडीगार्ड्स ने दिखाई बहादुरी

गुरुचरण नायक के बॉडीगार्ड नक्सलियों ने भिड़ गए। तबतक पूर्व विधायक ने किसी तरह वहां से भागकर अपनी जान बचाई। इधर नक्सलियों ने उनके दो सुरक्षाकर्मियों की गला रेतकर हत्या कर दी। वहीं तीन सुरक्षाकर्मियों की एक-47 राइफल छीन ली। घटना के बाद पुलिस और सुरक्षा बल सर्च अभियान चला रहे हैं।

पूर्व सीएम रघुवर दास ने सरकार पर बोला हमला

पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास ने इस जघन्य हमले की निंदा करते हुए कहा कि झारखंड में कानून व्यवस्था की स्थिति पूरी तरह ध्वस्त हो गई है। भाजपा के पूर्व विधायक गुरुचरण नायक जी व उनके बॉडीगार्ड पर हमला व सिमडेगा में मॉब लींचिंग की घटना झारखंड की वास्तविक स्थिति को प्रदर्शित कर रही है। झारखंड में आज जज, वकील, पत्रकार, नेताओं के साथ सुरक्षाकर्मी भी सुरक्षित नहीं है।
मुख्यमंत्री जी राजपाट चलाना आपके बस की बात नहीं है। सत्ता का मोह त्याग कर झारखंड के भला कीजिये और अपने दल के ही किसी योग्य और अनुभवी नेता को मुख्यमंत्री बनाईये। शहीद बॉडीगार्ड्स को राज्य सरकार तत्काल मुआवजा दे और उनके आश्रितों को सरकारी नौकरी दी जाये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *