गिरिडीह: कार में छिपा कर ले जा रहा था 70 किलो चांदी का बिस्किट, दो लोग गिरफ्तार

पुलिस ने कार में बने तहखाने से बरामद किया 70-72 किलो चांदी का बिस्किट
पुलिस ने कार में बने तहखाने से बरामद किया 70-72 किलो चांदी का बिस्किट

अमित सहाय

गिरिडीह जिले के मुफस्सिल थाना पुलिस ने भारी मात्रा में चांदी का बिस्किट बरामद कर दो तस्करों को हिरासत में लिया गया है. इसके साथ ही कई संदिग्धों से पूछताछ की जा रही है.

बताया जाता है कि पुलिस को यह सूचना मिली कि गिरिडीह से चांदी को अवैध तरीके से ले जाया जा रहा है. सूचना पर मुफस्सिल थाना प्रभारी ने थाना के सामने वाहनों की जांच शुरू कर दिए इसी दौरान JH 09 AE – 4300 नम्बर की वाहन को रोका और तलाशी की, तो गुप्त तहखाना में रखा भारी मात्रा में चांदी बरामद किया गया.

वाहन पर सवार बोकारो के अरविंद और पीरटांड़ के गोविंद नामक व्यक्ति से पूछताछ की जा रही है। दोनों पर पुलिस को शक हुआ, तो वाहन सहित दोनों व्यक्ति को थाना में रख कर पूछताछ की गई। पूछताछ में दोनों ने कुछ चांदी दिखाते हुए कहा कि हमलोग सोनार हैं और चांदी के ज्वेलरी बनाने का काम करते हैं. इसके बाद दोबारा कार की तलाशी की गई. करीब एक घंटे तक कार के हर हिस्से को खंगाला गया. एक घंटे की तलाशी के बाद कार की पिछली सीट के नीचे तहखाना मिला. इस तहखाने में चांदी का बिस्किट मिला.

बिस्किट का वजन लगभग 70 से 72 किलो है, जिसकी कीमत 30 लाख के आसपास बताई जा रही है.बिस्किट की बरामदगी के बाद यह साफ हो गया कि गिरिडीह में पुराने चांदी को गलाकर बिस्किट बनाया जाता है. इसके बाद बिस्किट को बोकारो के कसमार भेजा जाता है, जहां बिस्किट को रिफाइन कर वापस कारीगरों के पास पहुंचाया जाता है. पुलिस ने बताया कि दोनों के पास कोई भी वैध कागजात नहीं पाया गया है.

दोनों व्यक्तियों की निशानदेही पर मधुकर ज्वेलर्स गिरिडीह में छापेमारी की गयी। ज्वेलर्स दुकान के मालिक नहीं मिले, लेकिन कर्मियों को थाना लाकर पूछताछ की जा रही है। पुलिस अधीक्षक अमित रेणू ने मामले को गंभीरता से लिया ओर जांच करने का निर्देश एसडीपीओ अनिल सिंह और थाना प्रभारी विनय राम को दिया है.

थाना प्रभारी ने बताया कि हिरासत में लिए गए दोनों लोगों से कई बार कागजात मांगे गये लेकिन दोनों के पास कुछ नहीं था. उन्होंने कहा कि मामले की जांच की जा रही है. उन्होंने कहा कि शक है की चोरी और लूट के जेवरात को खपाया जा रहा था. हालांकि, इस बिंदु पर जांच चल रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com